नेशनल

सेक्स चेंज कराने वाले नाविक मनीष गिरी को गंवानी पड़ी नौकरी, नौसेना ने किया बर्खास्त

ललिता सेन, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
213
| अक्टूबर 10 , 2017 , 10:27 IST | नई दिल्ली

भारतीय नौसेना ने पिछले साल सेक्स चेंज कराने वाले नाविक मनीष गिरी को सेवा नियमों का उल्लंघन करने का दोषी पाये जाने पर बर्खास्त कर दिया है।

नौसेना ने बताया है कि मनीष गिरी ने छुट्टी के दौरान किसी प्राइवेट फैसिलिटी में सेक्स चेंज की सर्जरी कराई थी। ये काम उन्होंने अपनी मर्जी से किया था। नौसेना के अनुसार, मनीश की भर्ती के दौरान उनकी जो लैंगिक स्थिति थी, उसमें बदलाव कर उन्होंने भर्ती के नियमों और अपनी नियुक्ति की योग्यता के मापदंड का उल्लंघन किया है। मौजूदा नियमों के मुताबिक नाविक को लैंगिक स्थिति, मेडिकल स्थिति और भर्ती संबंधी बंदिशों के कारण सेवा में बने रहने की इजाजत नहीं दी जा सकती है। उन्हें प्रशासनिक रूप से सेवा से हटा दिया गया है।

नौसेना ये कदम के उन नियमों के तहत उठाया है, जिसके प्रावधान के अनुसार ये बताया गया है कि मनीष गिरी को अब सेवा करने की कोई जरूरत नहीं रह गई है।

गौरतलब है कि नौसेना में नाविक के पद पर सिर्फ पुरुषों की नियुक्ति होती रही है। नौसेना को पहली बार ऐसे केस का सामना करना पड़ा है।

Manish

बता दें कि, नाविक मनीष गिरि ने मुम्बई में अपनी छुट्टियों के दौरान अगस्त, 2016 में सर्जरी कराई थी। वहीं मनीष का कहना था कि सर्विस के कुछ सालों बाद उन्हें महसूस हुआ कि उनके अंदर एक महिला है। इसके बाद 2016 में उन्होंने विशाखापट्टनम में एक डॉक्टर से बात की और अपना इलाज करवाया।

मनीष ने बताया कि डॉक्टर ने उन्हें सेक्स चेंज करवाने की सलाह दी। इसके बाद उन्होंने 22 दिन की छुट्टी ली और दिल्ली में सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी करवाई।

Manish giri

मनीष ने सिर्फ 7 साल की सर्विस पूरी की है। नियम के हिसाब से 15 साल की सर्विस पूरी ना होने की वजह से उन्हें पेंशन भी नहीं मिलेगी।


कमेंट करें