नेशनल

हिडमा है सुकमा अटैक का मास्टरमाइंड! ऐसे दिया सबसे बड़े नक्सल हमले को अंजाम

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
200
| अप्रैल 25 , 2017 , 18:32 IST | सुकमा

छत्तीसगढ़ के सुकमा में सीआरपीएफ जवानों पर हुए जानलेवा हमले का मास्टरमाइंड नक्सल कमांडर हिडमा को माना जा रहा है। इंटेलिजेंस सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि हिडमा ने ही इस साजिश को रचा और 300 नक्सलियों के साथ मिलकर हमले को अंजाम दिया।

Hidma

बेहद कुख्यात माने जाने वाले इस नक्सल कमांडर पर 25 लाख रुपये का इनाम है। बीते कुछ सालों में सुरक्षाबलों पर हुए कई बड़े हमलों के पीछे उसकी भूमिका रही है। सुकमा में जंगरगुंडा इलाके के पलोडी गांव के रहने वाले हिडमा की उम्र 25 साल बताई जाती है। कहा जाता है कि वह दक्षिणी बस्तर के सुकमा-बीजापुर क्षेत्र में माओवादियों का सुप्रीम कमांडर है।

Gw 1

हिडमा एक कामयाब गुरिल्ला फाइटर

हिडमा को एक बेहद कामयाब रणनीतिकार और गुरिल्ला फाइटर माना जाता है। सूत्रों के मुताबिक वह गुरिल्ला हमले करने वाले नक्सली बटालियन का कमांडर है। दरअसल, हिडमा पीपल्स लिब्रेशन गुरिल्ला आर्मी के सेकंड बटालियन का कमांडर है। पीएलजीए भाकपा माले का सशस्त्र धड़ा माना जाता है। पुलिस का कहना है कि हिडमा अब भी पुलिस की पहुंच से बहुत दूर है। बीते पांच साल के दौरान हुए कई एनकाउंटर्स में तो वह मौके से भागने में सफल रहा।

कई बड़े हमलों को दिया है अंजाम

इसी साल, 11 मार्च को सुकमा में ही सीआरपीएफ जवानों पर हुए हमले में हिडमा का ही हाथ माना जाता है। इस हमले में 12 जवान शहीद हो गए थे। मई 2013 में जीरम घाटी में कांग्रेसी नेताओं के काफिले पर हुए नक्सली हमले में भी हिडमा का ही हाथ था। नक्सलियों ने 27 कांग्रेसी नेताओं समेत 32 लोगों की हत्या कर दी थी। इसके अलावा, 2010 में चिंतलनार में घात लगाकर 76 सीआरपीएफ जवानों की हत्या में भी इसकी भूमिका मानी जाती है।

Naxal 8


कमेंट करें