नेशनल

छत्तीसगढ़-ओडिशा के बीच नया कॉरिडोर बनाने में जुटे नक्सली, अक्सर देखे जाते हैं जंगलों में

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
98
| मई 12 , 2017 , 14:37 IST | रायपुर

नक्सली इन दिनों बस्तर से नारायणपुर, कांकेर और धमतरी में नगरी सिहावा होते हुए नया कॉरिडोर बनाने में जुटे हुए हैं, जो सीधे ओडिशा चला जाए। खुफिया जानकारी के मुताबिक छत्तीसगढ़ का टुहलू गांव खासतौर से नक्सलियों के निशाने पर है जो ओडिशा से 2 किमी दूर है।

Naxal09B

एक अखबार के मुताबिक टुहलू के लोग मान रहे हैं कि वहां पर नक्सली आते रहते है और गांव के पास के जंगलों में अक्सर 2-3 नक्सली दिखते रहते है। दरअसल, नक्सली अपनी पैठ बनाने के लिए ओडिशा से टुहलू आते रहते हैं। अखबार के मुताबिक गांव वालों ने बताया कि यहां पर कई बार नक्सलियों के आने की खबर मिलती है, मगर पहचान नहीं हो पाती।

1514926038703

दरअसल, टुडलू गांव की आबादी पांच-छह सौ से ज्यादा नहीं है और यह ओडिशा सीमा से सटा हुआ है। इन दोनों राज्यों के बीच में महज एक नाला है। नाले को पार करते ही ओडिशा का फरफौद और सिलिगिड़ी गांव आ जाता हैं। ये गांव घने जंगलों के बीच में बसे हुए हैं।

3306AS4

सुकमा हमले में शहीद हुए जवानों का बदला लेने के लिए सीआरपीएफ का कोबरा बटालियन बस्तर पहुंच रहा है। बता दें कि कोबरा बटालियन का पहला दस्ता बस्तर पहुंच गया है, इनमें करीब 200 जवान हैं। इन जवानों को बुधवार को वायुसेना के विमान एएल-76 से रायपुर लाया गया, उसके बाद जवान गुरूवार को बस्तर पहुंच गए।


कमेंट करें