इंटरनेशनल

नेपाल में 2 दशक बाद स्थानीय निकायों के लिए हो रहा चुनाव, विरोध में मधेशी दल

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
93
| मई 14 , 2017 , 14:39 IST | काठमांडू

नेपाल में स्‍थानीय स्‍तर के ऐतिहासिक चुनाव का पहला चरण रविवार को हो रहा है।सितंबर 2015 में नेपाल द्वारा नया संविधान लागू किए जाने के बाद यहां पहली बार चुनाव हो रहा है। माओवादियों के विद्रोह के कारण 1997 के बाद से चुनाव नहीं हो सका था।

ऐसे में यहां लंबे समय तक राजनीतिक अस्थिरता का माहौल रहा। पहले चरण के तहत 6,642 पोलिंग स्‍टेशनों पर मतदान शुरू हो चुका है।

दो चरणों में होगा मतदान

नेपाल में निकाय चुनाव 14 मई एवं 14 जून को दो चरणों में होगा। इस चुनाव में 1 करोड़ 40 लाख मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

Nepal 1

मधेशी दलों ने किया चुनाव का बहिष्कार

मधेशियों के द्वारा निकाय चुनाव का बहिष्कार किया गया। मधेशियों का कहना है कि संविधान निर्माण में उनकी अनदेखी की गई है। अब ऐसे में एक ओर नेपाल सरकार किसी भी कीमत पर शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने के मूड में है, वहीं मधेशी मोर्चा द्वारा इसका विरोध किया जा रहा है।

Madhesi

नए संविधान विधायक के विरोध में यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के द्वारा नेपाल में 14 मई को होने वाले निकाय चुनाव का बहिष्कार करने का फैसला लिया है। तमलोपा के उपाध्यक्ष हृदेश त्रिपाठी ने बताया कि नेपाल में बने नए कानून में मधेशियों की अनदेखी की गई है। इन्हें सरकारी क्षेत्रों में बराबरी का दर्जा नहीं दिया गया है।

Nepal 2

(फाइल फोटो)

 


कमेंट करें