नेशनल

SC में ऑनलाइन याचिका हो सकेगी दाखिल, मोदी बोले-तकनीक से आएगा बड़ा बदलाव

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
123
| मई 10 , 2017 , 13:15 IST | नई दिल्ली

सुप्रीम कोर्ट के एक कार्यक्रम में पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुप्रीम कोर्ट की वेबसाइट से जुड़े नए केस मैनेजमेंट सिस्टम का अनावरण किया। इस सिस्टम के शुरू होने से सुप्रीम कोर्ट में अब याचिका ऑनलाइन भी दर्ज की जा सकेगी। दिल्ली में आयोजित इस प्रोग्राम में भारत के मुख्य न्यायाधीश जस्टिन जेएस खेहर भी मौजूद थे। उच्चतम न्यायालय की वेबसाइट से जुड़े इस नए फीचर से कानून व्यवस्था और न्यायपालिका को डिजिटल तौर पर सशक्त किया जाएगा।

पीएम मोदी ने अपने भाषण में जजों को अपनी छुट्टियों की संख्या घटाने के लिए धन्यवाद कहा। उन्होंने कहा कि बदलाव के साथ जुड़ने से ही बदलाव आएगा। उन्होंने कहा कि ई-गवर्नेंस की मतलब है ईजी, इफेक्टिव इकोनॉनिकल और एंवायरमेंट फ्रेंडली गवर्नेंस हैं।

उन्होंने कहा कि आईटी यानी सूचना तकनीक के साथ जब इडियन टैलेंट जुड़ेगा तभी भी इंडिया टूमॉरो का निर्माण होगा। कागज का इस्तेमाल कम होगा तभी पर्यावरण की रक्षा होगी। पीएम मोदी ने कहा कि एक ए-4 साइज के कागज के निर्माण में पूरे 10 लीटर पानी खर्च होता है।

इस मौके पर मुख्य न्यायाधीश जस्टिस जेएस खेहर ने कहा कि कोर्ट में कंप्यूटराइजेशन का दौर 90 के दशक में शुरू हुआ था और तब से लेकर अभी तक हमने काफी कुछ हासिल किया है।

उन्होंने कहा कि न्याय प्रणाली में आधुनिक तकनीक के इस्तेमाल पर जोर दिया गया है। इंटिग्रेटेड केस मैनेजमेंट सिस्टम को भारतीय न्यायपालिका का सबसे बड़ा बदलाव बताते हुए उन्होंने कहा कि जल्द ही सभी हाईकोर्ट, जिला कोर्ट और सब-डिविजन कोर्ट को इस सिस्टम के साथ जोड़ा जाएगा। इसके सभी जेलों को भी इससे जोड़ा जाएगा।

पीएम मोदी ने कहा कि टेक्नोलोजी से पूरे दुनिया की आर्थिक व्यवस्था को बदल सकते हैं। उन्होंने कहा कि टेक्नोलोजी के दम पर टैक्सी से भी कम किराये में भी हम मगंल ग्रह तक पहुंच सकते हैं। टेक्नोलोजी ने मंगल ग्रह पहुंचने का खर्च हॉलीवुड फिल्म के बजट से भी कम कर दिया है। स्पेस टेक्नोलो़जी में भारत को दुनिया भर में इज्जत मिल रही है। 

हमें गर्व है कि भारत अपने पहले ही कोशिश में मंगल ग्रह पर पहुंचने में कामयाबी हासिल कर ली।

पीएम मोदी ने कहा कि पेपर करेंसी का जमाना खत्म हो गया, अब डिजिटल करेंसी का जमाना आ गया है।  


कमेंट करें