ऑटोमोबाइल

मारुति सुजुकी की इस कार ने 'मेक इन इंडिया' कैंपेन को दिया नया आयाम

अर्चित गुप्ता | 0
164
| अक्टूबर 8 , 2017 , 14:29 IST | नई दिल्ली

मारुति सुजुकी बलेनो एक ऐसी कार है जिसने पीएम नरेंद्र मोदी के 'मेक इन इंडिया' अभियान को हकीकत में एक बड़ा रूप दिया है। इस कार की लोकप्रियता घरेलू आॅटो बाजार में जबर्दस्त है और इसी को देखते हुए पहली बार बड़े पैमाने पर ग्लोबल और एक्सपोर्ट मार्केट्स ने भी इस कार में रुचि दिखाई है। बता दें कि मारुति सुजुकी बलेनो को पूरी तरह से भारत में ही तैयार किया जाता है। मारुति सुजुकी हैचबैक मारुति के नेक्सा शोरूम्स से सबसे ज्यादा बिकने वाली कार है।

Maruti-Suzuki-Baleno-2016-india-launch-red-1-696x472

दो साल पहले लॉन्च हुई इस कार को खरीदने के लिए अब भी आपको वेट करना पड़ेगा। अब बलेनो को मारुति गुजरात और मानेसर स्थित प्लांट्स में बनाती है। इन्फोटेनमेंट सिस्टम और नैविगेशन मैप्स आदि की सप्लाइ MAPMYINDIA करती है। चेसिस के कम्पोनेंट्स ZFIndia से आते हैं। Bosch India , Hella, Brakes India, Minda Group, Mageneti Mareli और कई अन्य भारतीय कंपनियां बलेनो के लिए कम्पोनेंट्स सप्लाइ करती हैं।

अगस्त 2017 में बलेनो ने घरेलू बाजार में रेकॉर्ड 17,190 कारें बेचीं। कंपनी ने इसका सीवीटी ट्रांसमिशन वैरियंट, बलेनो अल्फा भी इसी साल जुलाई में लॉन्च किया। बलेनो की सफलता को देखते हुए मारुति ने बलेनो आरएस स्पॉर्टी वैरियंट भी लॉन्च किया। इतना ही नहीं, मारुति ने 1.0 लीटर बूस्टरेजेट इंजन वाला बलेनो आरएस वर्जन भी पेश किया।

Maruti-Baleno-Interiors

लॉन्च से महज 20 महीनों में ही भारत में मारुति सुजुकी बलेनो की सेल्स का आंकड़ा 2 लाख से अधिक जा पहुंचा है। जापान के अलावा इस कार को 100 अन्य देशों में भी एक्सपोर्ट किया जाता है। कंपनी ने जापान, आॅस्ट्रेलिया, न्यू जीलैंड, यूरोपियन और लैटिन अमेरिकन देशों में भी इसका निर्यात किया है।


कमेंट करें