नेशनल

आगरा में सरेआम महिला पत्रकार से छेड़छाड़, 4 दिन बाद जागी योगी की पुलिस

आशुतोष कुमार राय, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
150
| जनवरी 30 , 2018 , 18:08 IST

उत्तर प्रदेश के आगरा में एक चैनल की महिला पत्रकार का पीछा कर छेड़छाड़ करने वाले दो युवकों को आगरा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 

पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने आज आगरा में पत्रकारों को बताया कि 25 जनवरी की रात टीवी एंकर अपनी ड्यूटी को खत्म करके घर लौट रही थी कि अचानक शराब के नशे में धुत दो लड़कों ने उसका पीछा किया और छेड़खानी करने लगे। डरी हुई महिला ने पुलिस हेल्प लाइन 1090 पर फोन कर घटना की जानकारी दी।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस ने इस सिलसिले में कल रात उबैदुल्लाह और शबाहुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया। महिला एंकर दामिनी माहौर ने इस घटना को सोशल मीडिया में साझा किया था। उसने लिखा “ 25 जनवरी की रात आठ बजे भगवान टाकीज के पास मोटरसाइकिल सवार दो युवकों ने मेरा पीछा किया शुरू में मैने नजरअंदाज किया मगर उनमे से एक ने मुझसे बात करने की कोशिश की। डर कर मैने रास्ता बदल लिया मगर युवकों ने मेरा पीछा करना जारी रखा। मैने मोटरसाइकिल का नम्बर नोट करना चाहा तो पीछे बैठे युवक ने कहा कि नम्बर फर्जी है।उनके चेहरे पर डर और शर्म नाम की कोई चीज नही थी।"

आगरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, महिला हेल्पलाइन,पुलिस महानिदेशक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को टैग कर माहौर ने लिखा “ मेरे साथ जो हुआ वह बडी घटना नही कही जा सकती मगर ये लोग राह चलती किसी अकेली महिला के साथ बेखौफ होकर बदतमीजी करें, यह पुलिस के लिये बडे शर्म की बात है। अगली बार यह किसी युवती के साथ बलात्कार की घटना भी हो सकती है जो उसकी जिंदगी बरबार कर दे।"

माहौर ने लिखा कि महिला हेल्पलाइन पर फोन करने के बावजूद चार दिनो तक उसे कोई सहायता नही मिली आखिरकार उसने फेसबुक पर घटना को बयां करना उचित समझा।

इसके बाद पुलिस अधिकारियों ने उससे संपर्क साधा और प्राथमिकी दर्ज की। आगरा पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 354 डी के तहत आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

इस घटना के सामने आने के बाद यूपी पुलिस हरकत में आ गई और छेड़छाड़ करने वाले इन दोनों लड़कों को गिरफ्तार कर लिया।

इसे भी पढ़ें:- फेसबुक पोस्ट पर बरेली के डीएम को योगी ने लगाई फटकार, मौर्य बोले- होगी कार्रवाई

इन दोनों आरोपियों के नाम उबैदुल्लाह और सबाहुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया गया है और इन दोनों आरोपियों को आईपीसी के सेक्शन 354डी के तहत जेल में डाल दिया गया है। दामिनी की फेसबुक पोस्ट के बाद '1090' के इंचार्ज आईजी नवनीत सिकेरा ने दामिनी से माफी मांगते हुए दो अधिकारियों को संस्पेंड कर दिया है।


कमेंट करें