नेशनल

कश्मीर में पुराने आतंकियों की नई भूमिका, अलगाववादियों को फंड दिलाने में कर रहे मदद

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
125
| मई 22 , 2017 , 10:21 IST | कश्मीर

कश्मीर में हुर्रियत नेताओं को आंतकियों से फंडिंग के जांच एनआईए ने शुरू कर दी है। इस बीच खबर है कि हाल की घटनाएं इस बात की तरफ इशारा करती हैं कि पर्दे के पीछे से घाटी में 90 के दशक में सक्रिय रहे आंतकी नई भूमिका के साथ वापसी कर रहे हैं।

36279da4c3f98978b0f424d3a57530ba

एक अंग्रेज़ी अखबार ने सूत्रों के हवाले से दावा किया है कि नब्बे के दशके के आतंकवादी पाकिस्तान से आलगाववादियों को पैसे दिलाने में बड़ी भूमिका निभा रहे हैं। अखबार का कहना है कि सैयद अली शाह गिलानी के कानूनी सलाहकार गुलाम मोहम्मद बट ने 2009 से 2011 के बीच पाकिस्तान से दो करोड़ रुपये से अधिक की रकम हवाला के जरिए मिली थी। बट को 2011 में गिरफ्तार किया गया था और इस मामले में सुनवाई अभी चल रही है।

T_1493007529_1

एनआईए की जांच का हवाला देते हुए निर्मल सिंह ने कहा कि घाटी में सेना पर पत्थरबाजी के लिए हर युवा को रोजाना 500 रुपए दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारत के खिलाफ प्रत्यक्ष तौर पर 4 लड़ाईयां हार चुका है, जिसके बाद अब वो हवाला और जाली नोटों के जरिए पैसा मुहैया कर रहा है। वो भारत के खिलाफ कश्मीरी युवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं।


कमेंट करें