बिज़नेस

नीरव मोदी ने US में दी दिवालिया घोषित करने की अर्जी, 650 Cr की है देनदारी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
568
| फरवरी 28 , 2018 , 17:45 IST

हीरा कारोबारी नीरव मोदी की कंपनी फायरस्टार डायमंड इंक ने अमेरिका में दिवालिया (बैंकरप्सी) घोषित किए जाने की अर्जी दी है। कंपनी ने न्यूयॉर्क के बैंकरप्सी कोर्ट को करीब 650 करोड़ रुपए की देनदारी बताई है। फायर स्टार डायमंड इंक अमेरिका समेत कई देशों में हीरा और ज्वेलरी का कारोबार करती है। हालांकि, कोर्ट में दाखिल पेपर में नीरव मोदी और गीतांजलि ग्रुप के मेहुल चौकसी का नाम नहीं है। बता दें कि दोनों पर पंजाब नेशनल बैंक में 12,672 करोड़ रुपए का घोटाला करने का आरोप है।

नीरव मोदी की कंपनी ने 8 पेज की पिटीशन फाइल की

फायरस्‍टार डायमंड इंक के डायरेक्‍टर मि‍हिर भंसाली ने कोर्ट में 8 पेज की पिटीशन फाइल की। इसमें चैप्‍टर 11 के टाइटल 11 के तहत कोर्ट से राहत मांगी गई। इसमें कहा गया है कि यह वक्त की मांग है। कंपनी के हित के लिए यह कदम अहम है। हालांकि, कोर्ट पेपर्स में कंपनी के फाउंडर नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चौकसी का जिक्र नहीं किया गया है।

क्‍या है चैप्‍टर 11 नियम

नीरव मोदी की कंपनी ने अमेरिका में बैंकरप्सी नियम के चैप्टर 11 के तहत दिवालिया घोषित किए जाने की अर्जी दी। चैप्टर 11 के तहत आमतौर पर कर्जदार अपने बिजनेस ऑपरेशन को चलाए रखने के लिए कर्ज का पैसा किश्त में चुकाने की इच्‍छा जाहिर करता है।

इन देशों में है नीरव के कारोबार

कंपनी की वेबसाइट के अनुसार फायरस्‍टार डायमंड की स्‍थापना 1999 में USA में हुई थी। पहले यह कंपनी डायमंड सप्‍लायर का काम करती थी। कंपनी ने 2001 में ज्लवेरी मैन्‍युफैक्‍चरिंग का काम शुरू किया। कंपनी का कारोबार अमेरिका, यूरोप, पश्चिम एशिया और भारत सहित कई देशों में फैला है।

पीएनबी घोटाले की राशि बढ़कर 12,672 करोड़ हुई

सीबीआई ने मंगलवार को बताया कि पीएनबी ने 1,251 करोड़ रु. के नए फ्रॉड की जानकारी दी है, जिससे हीरा कारोबारी नीरव मोदी और गीतांजलि ग्रुप के मेहुल चौकसी से जुड़े घोटाले की रकम बढ़कर 12,672 करोड़ हो गई है। इससे पहले यह राशि 11,421 करोड़ रुपए थी। बता दें कि पीएनबी की शिकायत पर सीबाआई ने नीरव, चौकसी और अन्य के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग के दो केस दर्ज किए हैं। दोनों आरोपी देश छोड़कर भाग चुके हैं।

PNB का शेयर 100 रुपए से नीचे

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में 1,251 करोड़ के एक और फ्रॉड ट्रांजैक्‍शन का मामला आने के बाद बैंक के शेयरों में मंगलवार को 12% तक गिरावट रही। कारोबार के दौरान शेयर के भाव 96 रुपए पर आ गए, जो पिछले 52 हफ्तों का सबसे निचला स्तर था।

वि‍देशों में भी सीज होगी नीरव की प्रॉपर्टी

PNB फ्रॉड मामले में अब एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ईडी) 6 देशों में स्थित नीरव मोदी के संपत्तियों की पहचान कर उन्हें सीज करने का काम शुरू करेगी। इस बारे में मुंबई की स्पेशन कोर्ट ने ईडी मंजूरी दे दी।


कमेंट करें