राजनीति

नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा, कहा-अंतरआत्मा की आवाज़ पर लिया फैसला

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
340
| जुलाई 26 , 2017 , 19:47 IST | पटना

बिहार में सियासी खींचतान के बीच राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदल गया। बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी से मिलकर इस्तीफा सौंप दिया है। बुधवार शाम पटना में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जेडीयू विधायकों, सांसदों और दूसरे नेताओं की बैठक बुलाई। बैठक के बाद नीतीश कुमार राज्यपाल से मिलने गए और उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया।

अब नीतीश कुमार के इस्तीफे के बाद यह तय हो गया है कि बिहार में महागठबंधन टूट गया है। दरअसल जेडीयू की बैठक से पहले ही आरेजडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव, उनकी पत्नी और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी समेत उनके बेटे और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा था कि नीतीश ने उनसे न ही इस्तीफा मांगा है और न ही भ्रष्टाचार के आरोपों पर कोई सफाई मांगी है।

भ्रष्टाचार पर नीतीश का जीरो टॉलरेंस

जेडीयू के वरिष्ठ नेता और सांसद के.सी त्यागी ने कहा कि नीतीश कुमार की नीति भ्रष्टाचार को लेकर बिल्कुल साफ है। अतीत में भी नीतीश कुमार ने भ्रष्टाचार के मामलों में इस्तीफे लेने का काम किया है।

गठबंधन चलाना मुश्किल हो रहा था: नीतीश कुमार

इस्तीफा देने के बाद नीतीश ने कहा कि मैंने महामहिम से मुलाकात कर इस्तीफा सौंप दिया हैं। हमसे जितना हुआ उतना गठबंधन का धर्म निभाया। जनता के हित में काम किया। लगातार बिहार के लिए काम करने की कोशिश की। जो माहौल था, उसमें काम करना मुश्किल था। हमने तेजस्वी से इस्तीफा नहीं मांगा, लेकिन लालू और तेजस्वी से यही कहा कि जो भी आरोप लगे हैं, उसे साफ करें।

नीतीश ने कहा कि स्पष्टीकरण करना बहुत जरूरी है, लेकिन वो भी नहीं हो पा रहा है। तेजस्वी पर आरोपों से गलत धारणा बन रही है। बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष से हमने कहा कि कुछ तो ऐसा करिए जिससे रास्ता निकले, लेकिन ऐसा नहीं हो रहा था। उन्होंने कहा कि अंतरात्मा की आवाज के बाद दिया इस्तीफा।

नीतीश कुमार ने कहा कि राज्यपाल महोदय ने इस्तीफा स्वीकार कर लिया है और कहा कि तत्काल संवैधानिक व्यवस्था कायम होने तक कुर्सी पर बने रहना होगा।

पीएम मोदी ने नीतीश को इस्तीफे पर दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महागठबंधन से अलग होने पर नीतीश कुमार को बधाई दी। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में जुड़ने के लिए नीतीश कुमार जी को बहुत-बहुत बधाई। सवा सौ करोड़ नागरिक ईमानदारी का स्वागत और समर्थन कर रहे हैं।

दरअसल, बुधवार सुबह लालू प्रसाद यादव, राबड़ी देवी और तेजस्वी ने साफ कर दिया था कि नीतीश कुमार ने उनसे इस्तीफा नहीं मांगा है। जिसके बाद नीतीश ने खुद ही इस्तीफा दे दिया।


कमेंट करें