मनोरंजन

Review: सोनाक्षी के दमदार अभिनय के बावजूद फीकी है नूर...

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
213
| जनवरी 1 , 1970 , 05:30 IST | मुंबई

सुनील सिप्पी की फ़िल्म नूर शुक्रवार को रिलीज़ हुई। फ़िल्म में मुख्य भूमिका सोनाक्षी सिन्हा, कनन गिल, शिबानी दांडेकर, पूरब कोहली और एमके रैना ने निभाई है। यह एक महिला प्रधान फ़िल्म है जो सबा इम्तियाज़ की नॉवल 'कराची यू आर किलिंग मी' से प्रेरित है।

Noor

नूर कहानी एक मुंबई की रहने वाली 28 साल की पत्रकार नूर रॉय चौधरी की है,जिसकी किरदार सोनाक्षी सिन्हा निभाती हैं। वह अपने पिता के साथ रहती है जिसकी मां की बचपन में ही डेथ हो चुकी है। नूर की जिंदगी में उसके दो दोस्त जारा पटेल (शिबानी दांडेकर) और साद सहगल (कनन गिल) काफी अहमियत रखते हैं। नूर हमेशा रीयल मुद्दे पर आधारित स्टोरीज करना चाहती है लेकिन उसका बॉस शेखर दास (मनीष चौधरी) हमेशा ही उसे एंटरटेनमेंट की स्टोरी करने को कहता है। इसी बीच नूर को एक ऐसे गैंग की कहानी का पता चलता है जो बहुत बड़ा रैकेट चलाता है जिसमें शहर के बड़े-बड़े लोग भी इन्वॉल्व हैं। नूर ये स्टोरी करती है लेकिन उसकी स्टोरी चोरी हो जाती है। इसी बीच कहानी में अयान बनर्जी (पूरब कोहली) की एंट्री होती है।

Sonakshi4

Sonakshi1

हालांकि फिल्म की कहानी काफी बोरिंग है और बहुत ही धीरे धीरे चलती है। साथ ही फिल्म में कोई उतार चढ़ाव और थ्रिलिंग एलिमेंट्स नहीं है जिसकी वजह से कहानी काफी फीकी बन गयी। फ़िल्म में सोनाक्षी का अभिनय तारीफ़ के क़ाबिल है वो एक बेपरवाह-बेबाक़ लड़की के किरदार को बखूबी निभाती हैं। फ़िल्म के कई सीन आपको दिलचस्प लगेंगे और आपके चेहरे पर मुस्कुराहट लाएंगे। सिनेमेटोग्राफ़ी भी बेहद ख़ूबसूरत है जो मुंबई की एक अलग शक्ल दिखाती है। नूर के गाने अच्छे हैं और गुलाबी आंखें गाने का रीमिक्स पहले ही लोगों के दिलों में छा चुका है। बता दें की फिल्म का बजट लगभग 15 करोड़ का बताया जा रहा है।

 




Sonakshi


कमेंट करें