बिज़नेस

नोटबैन ने रोकी विकास की रफ्तार!, धड़ाम हुआ ग्रोथ रेट

आईएएनएस | 0
107
| अगस्त 31 , 2017 , 18:45 IST | नई दिल्ली

चालू वित्त वर्ष की जून में खत्म हुई तिमाही के दौरान देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर में गिरावट दर्ज की गई और यह वित्त वर्ष 2016-17 की चौथी तिमाही के 6.1 फीसदी से घटकर 5.7 फीसदी पर आ गई।

आधिकारिक आंकड़ों से गुरुवार को यह जानकारी मिली। 

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में जीडीपी 5.7 फीसदी की वृद्धि दर के साथ 31.10 लाख करोड़ रुपये रही, जबकि पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही के दौरान इसकी वृद्धि दर 6.1 फीसदी थी। 

अगर हम जीडीपी की वृद्धि दर की तुलना एक साल पहले की समान तिमाही से करें तो इसमें काफी अधिक गिरावट दर्ज की गई है। वित्त वर्ष 2016-17 की पहली तिमाही के दौरान जीडीपी की रफ्तार 7.9 फीसदी थी। कांग्रेस ने जीडीपी ग्रोथ में रुकावट के लिए सीधे तौर पर मोदी सरकार की नीतियों को जिम्मेवार ठहराया है। 


कमेंट करें