नेशनल

Exclusive: NWI की मुहिम, दिग्गजों ने 'SwachhSoch' में कहा-पॉर्न पर लगाओ पाबंदी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
198
| अक्टूबर 2 , 2017 , 20:20 IST | नई दिल्ली

2 अक्टूबर को गांधी जयंती के मौके पर न्यूज वर्ल्ड इंडिया ने एक मुहिम की शुरूआत की। इस मुहिम में फ्लैग फाउंडेशन ऑफ इंडिया ने न्यूज वर्ल्ड इंडिया की मदद की। ये मुहिम है स्वच्छ सोच की, ये मुहिम है देश में फैल रहे पॉर्न पर रोक लगाने की। दरअसल, इस मुहिम की शुरूआत इस आधार पर की गई कि जब देश में लोगों की मानसिकता स्वच्छ रहेगी तो आसपास का माहौल साफ-सुथरा रहेगा और देश तेजी के साथ तरक्की करेगा।

आपको बता दें कि भारत में पॉर्न हमेशा से ही विवादों के घेरे में रहा है। कई बार इस पर प्रतिबंध लगाने की बात कही गई। लेकिन, इस पर अभी तक कोई भी सख्त कदम नहीं उठाया गया है। मगर न्यूज वर्ल्ड इंडिया अब इसे आप तक लेकर आया है। आज के वक्त में जरूरत है कि स्वच्छ भारत के साथ लोगों की सोच भी स्वच्छ हो। हम अपने आस-पास एक ऐसा समाज चाहते है जहां पर महिलाएं और बच्चे सुरक्षित हो और उनके प्रति लोगों की सोच भी स्वच्छ हो।

हम आपके सामने एक ऐसे नशे की लत के बारे में चर्चा कर रहे है। जिसे अगर नहीं रोका गया तो आने वाली पीढ़ी बर्बादी की कगार में खड़ी होगी। दरअसल, हम पॉर्न की बाते कर रहे है। इसके लिए लोग अपने कम्प्यूटर या फिर मोबाइल का इस्तेमाल करते है और आज के वक्त में इसका बाजार तेजी से फैलता जा रहा है।

स्वच्छ सोच को बढ़ावा देने की मुहिम हमारे साथ चर्चा के लिए वरिष्ठ वकील रेखा अग्रवाल, समाजिक कार्यकर्ता नूतन ठाकुर, बीजेपी नेता शाइना एनसी, कांग्रेस नेता शर्मिष्ठा मुखर्जी, आप नेता अलका लांबा और सपा नेता पंखुड़ी पाठक मौजूद रहीं। इस दौरान इन लोगों ने भारत में बढ़ती पॉर्न की समस्या पर अपनी चिंता जाहिर की। 

इतना ही नहीं इस मुहिम में आप ट्विटर और फेसबुक के जरिये हमसे जुड़ सकते है और इस अपनी प्रतिक्रिया हमें भेज सकते है।

Soch

आइये इस समस्या को अच्छी तरह से समझने के लिए हम आपको एक रिपोर्ट दिखाते है। इस रिपोर्ट को देखने के लिए नीचे दिए गए वीडियो को ध्यान से देखिए। इस वीडियो को देखने के बाद आप किसी अपने को इस लत से दूर कर सकते है और उसकी सोच को स्वच्छ कर सकते है। यह तो किसी से भी नहीं छिपा है कि आज के वक्त में छेड़छाड़ और बलात्कार जैसी घटनाएं बढ़ गई है और इनका शिकार मासूम से लेकर बूढ़ी महिलाएं तक बन रही है। इसलिए चलिए हम और आप मिलकर स्वच्छ भारत बनाते है। जहां हर कोई खुद को सुरक्षित महसूस कर सकें।

 

देखें 'स्वच्छ सोच' अभियान पर कार्यक्रम


कमेंट करें