नेशनल

इस दबाव की वजह से पर्रिकर ने छोड़ा रक्षा मंत्री का पद (ख़ुलासा)

icon कुलदीप सिंह | 0
139
| अप्रैल 15 , 2017 , 11:55 IST | पणजी

रक्षा मंत्री के पद से इस्तीफा देने और गोवा के मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार मीडिया के सामने खुलकर आए मनोहर पार्रिकर ने कई खुलासे किए हैं। पर्रिकर ने कहा कि कश्मीर मसले के कारण उन्होंने रक्षा मंत्री का पद छोड़ने का मन बनाया और इस्तीफा देकर वो दिल्ली से वापस गोवा आ गए।

Ub235cQ

डॉ. भीमराव अंबेडकर की 126वीं जयंती के मौके पर एक जनसभा को संबोधित करते हुए पर्रिकर ने कहा कि जैसे ही मुझे मौका मिला, मैं गोवा लौट आया। पूर्व रक्षा मंत्री ने कहा कि कश्मीर मुद्दे को सुलझाना कोई आसान काम नहीं है। कश्मीर मसले को सुलझाने के लिए दीर्घकालीन नीति की जरूरत है। कुछ चीजें ऐसी होती है जिन पर चर्चा कम से कम और कार्रवाई ज्यादा करने की जरूरत होती है।

 

उन्होंने कहा,

कुछ चीजें है जिस पर कम चर्चा की जरूरत है..कश्मीर जैसे मुद्दों पर कम चर्चा और अधिक कार्रवाई की जरूरत है क्योंकि जब आप चर्चा के लिए बैठते हैं मुद्दे जटिल हो जाते हैं।

 

भाजपा के वरिष्ठ नेता पर्रिकर ने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज उनके ‘‘राजनीतिक गुरू’’ हैं और वह उनके कुछ गुणों को आत्मसात करना चाहेंगे।


author
कुलदीप सिंह

लेखक www.Khabarnwi.com के Editorial Head हैं और News World India समाचार चैनल में executive editor हैं. आप उन्हें twitter पर @kuldeeps1980 पर फॉलो कर सकते हैं.

कमेंट करें