नेशनल

इलाहाबाद HC की 150वीं वर्षगांठ: पीएम बोले- कानून का लक्ष्य सभी का कल्याण

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
102
| अप्रैल 2 , 2017 , 12:52 IST | इलाहाबाद

इलाहाबाद हाईकोर्ट की 150वीं वर्षगांठ के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे। प्रधानमंत्री के अलावा इस कार्यक्रम में सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिश खेहर भी मौजूद थे। प्रधानमंत्री का स्वागत करने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एयरपोर्ट पहुंचे और पीएम को पुष्प गुच्छ देकर उनका स्वागत किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि इलाहाबाद हाईकोर्ट न्याय का तीर्थ स्थल है। पीएम मोदी ने भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एस राधाकृष्णन द्वारा कानून की दी गई परिभाषा को दोहराते हुए कहा कि कानून का लक्ष्य सभी मनुष्यों का कल्याण होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि कानून को आधुनिक चुनौतियों के हिसाब से बदलते रहना चाहिए। कानून सिर्फ अमीरों के कल्याण के लिए नहीं होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि चीफ जस्टिस खेहर के द्वारा कहे गए हर शब्द को मैं मन से सुन रहा था। उनकी पीड़ा को महसूस कर रहा था। सरकार चीफ जस्टिस के संकल्प के साथ है और सरकार अपनी हर जिम्मेदारी को पूरा करने का प्रयास करेगी।   

सीएम योगी आदित्यनाथ ने समारोह को संबोधित करते कहा कि कानून शासकों का शासक होता है। न्याय और विधि एक दूसरे के पूरक होते हैं। कानून का स्थान हमेशा शासकों से ऊपर होता है। कानून से ही समाज चलता है।

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस जेएस खेहर ने समारोह को संबोधित करते कहा कि हमारे देश के प्रधानमंत्री मन की बात बोलते हैं और मैं इस मौके पर आज दिल की बात बोलूंगा।

Jsk

जस्टिस खेहर ने कहा कि हर किसी की जिंदगी का एक टर्निंग प्वाइंट होता है। टर्निंग प्वाइंट पर ही इंसान को फैसले लेने होते हैं। इंसान की सफलता और विफलता उसी पर निर्भर रहती है।

इस मौके पर बोलते हुए कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इलाहाबाद हाईकोर्ट के ऐतिहासिक फैसलों को याद करते हुए कहा कि,

इस कोर्ट के जगमोहन लाल ने प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के खिलाफ साहसिक फैसला दिया और यह संदेश देने का काम किया कि कानून का उल्लंघन कोई भी करेगा तो कोर्ट सही रास्ता दिखाएगा

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि हम सीएसई का गठन करेंगे जिसके तहत कॉमन सेंटर खोले जाएंगे जिससे लोगों को मुफ्त कानूनी मदद मिल सके।

Rsp

उन्होंने कहा कि हम कानून विभाग की ओर से एक वेबसाइट का गठन करेंगे, मैं अपील करता हूं कि सारे वकील इसपर रजिस्टर करें और गरीबों को कानूनी मदद देने के लिए आगे आए।

समारोह को खास बनाने के लिए हाई कोर्ट की बिल्डिंग की भव्य सजावट की गई थी। साथ ही शहर में जगह-जगह बड़ी स्क्रीन लगाकर समारोह का लाइव प्रसारण किया गया। शहर के अलग अलग इलाकों में पीएम मोदी और सीएम योगी के साथ समारोह के पोस्टर भी लगाए गए थे। साथ ही पूरे इलाके की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी।

इलाहाबाद हाई कोर्ट के 150वीं वर्षगांठ के मौके पर यूपी के राज्यपाल राम नाईक, प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक, चीफ जस्टिस इलाबाहाद हाई कोर्ट सहित कई न्यायाधीश और गणमान्य मौजूद थे।

Allhabad hc


कमेंट करें