अभी-अभी

SCO में भारत की एंट्री, मोदी का पाक पर निशाना, कहा-आतंकियों की फंडिंग बंद हो

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
204
| जून 9 , 2017 , 18:43 IST | अस्ताना

कजाकिस्तान की राजधानी अस्ताना में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन के दौरान भारत को शुक्रवार को एससीओ की पूर्णकालिक सदस्यता मिल गई। भारत की सदस्यता के आग्रह को स्वीकार करने के लिए एसीओ के प्रति आभार व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह मंच दुनिया की 42 फीसदी आबादी, 20 फीसदी सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) तथा 22 फीसदी क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करता है।

मोदी ने कहा, "भले ही हम एससीओ के सदस्य आज बने हैं, लेकिन हमारे बीच के संबंध ऐतिहासिक हैं।"

उन्होंने कहा कि एससीओ के साथ भारत के संबंधों में ऊर्जा, शिक्षा, परिवहन, कृषि, सुरक्षा, विकास तथा व्यापार की शीर्ष भूमिका होगी। मोदी के मुताबिक, आतंकवाद के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लड़ाई में एससीओ एक ताकतवर साझेदार होगा।

CloS7NmWYAAD-c3

पीएम मोदी ने आतंकवाद का मुद्दा उठाते हुए बिना नाम लिए पाकिस्तान को घेरने की कोशिश की। पीएम ने कहा कि आतंकवाद विश्व का ही नहीं पूरी मानवता का दुश्मन है और इसे रोकना बेहद जरूरी है। पीएम ने कहा कि सभी देशों को एकजुट होना चाहिए, जिसमें एससीओ एक अहम भूमिका निभाएगा। पीएम ने कहा कि जबतक आतंकियों को फंडिंग होती रहेगी तबतक आतंक पर लगाम कसना बहुत मुश्किल है।

पीएम ने ये भी कहा कि आतंकियों की भर्ती को नहीं रोका गया, तो इसका अंजाम बेहद बुरा होगा। मोदी ने कहा कि एससीओ से विश्व के बड़े देश एकजुट होंगे और उसके खिलाफ लड़ने में इससे ताकत मिलेगी।

AFP_PD4XC-k79--621x414@LiveMint

मोदी के भाषण के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एससीओ की सदस्यता मिलने पर भारत को बधाई दी। एससीओ के गठन का ऐलान साल 2001 में किया गया था। साल 2005 से ही भारत इसमें प्रेक्षक की भूमिका निभा रहा था।

एससीओ में पाकिस्तान को भी पूर्णकालिक सदस्यता मिल गई है। इस क्षेत्रीय गुट के सदस्यों में भारत तथा पाकिस्तान के अलावा, चीन, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, रूस, तजाकिस्तान तथा उज्बेकिस्तान शामिल हैं।


कमेंट करें