राजनीति

नागालैंड रैली में बोले मोदी- 'ट्रांसफॉर्मेशन बाय ट्रांसपोर्टेशन' है पूर्वोत्तर के लिए मेरा विज़न

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
579
| फरवरी 22 , 2018 , 13:50 IST

नागालैंड में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबका साथ सबका विकाश की बात पर जोर देते हुए कहा कि देश के हर कोने को एक साथ लेकर चलने का ईमानदारी से प्रयास होता है तो ही इतनी जनसंख्या में लोग रैलीयों में आकर आशीर्वाद देतें हैं।बता दें कि यहां 27 फरवरी को मतदान होने हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नगालैंड में होने वाले विधानसभा चुनाव के चलते तुएनसांग पहुंचे। यहां पहुंच कर उन्होंने रैली को संबोधित किया। बता दें कि यहां 27 फरवरी को मतदान होने हैं।

मोदी ने अपने संबोधन में आगे कहा कि पूर्वोत्तर के लिए मेरा विज़न है ''ट्रांसफॉर्मेशन बाय ट्रांसपोर्टेशन''। नागालैंड के साथ-साथ हम ENPO क्षेत्र पर विशेष ध्यान देंगे। उन्‍होंने कहा कि हमारी सरकार नागालैंड की भलाई के लिए उठने वाली हर आवाज का सम्मान करती है, हमने हमेशा बातचीत का रास्ता खुला रखा है।

पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र द्वारा प्रदान किए गए धन को उन लोगों तक पहुंचना चाहिए जिनके लिए यह भेजा गया है। भारत के एक प्रधानमंत्री ने एक बार कहा था कि गांवों को केंद्र की ओर से भेजे गए 1 रुपए 15 पैसा मिलता है। हमें इस स्थिति को दृढ़ संकल्प के साथ बदलना होगा।

पीएम ने कहा कि भारत का विकास पूर्वोत्तर के विकास के बिना संभव नहीं, इस लिए हमारी सरकार 'अष्ट लक्ष्मी' पर विशेष ध्यान दे रही है। मोदी ने कहा कि हम यह सुनिश्चित करेंगे कि आपके राज्य के लिए जारी धन आपके पास प्रौद्योगिकी की सहायता से पहुंच जाए। हम उन कमियों को पकड़ेंगे जो सार्वजनिक धन के अपव्यय का कारण बना रहे हैं।

नागालैंड में कनेक्टिविटी एक बड़ी चुनौती है हम इसे खत्म करने की दिशा में निरंतर काम कर रहे हैं। 4 साल से कम समय में, हमने 500 किमी राष्ट्रीय राजमार्गों को जोड़ लिया है। हमने नागालैंड की सड़कों में 10,000 करोड़ रुपये से अधिक निवेश करने की योजना बनाई है।

हमने नागालैंड में 8,500 घरों के निर्माण को मंजूरी दी है। नए घरों के निर्माण और पुरानी योजनाओं को पूरा करने के लिए हमने 160 करोड़ रुपये का भुगतान करने का फैसला किया है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत, नागालैंड को 400 करोड़ रुपये दिए गए हैं।

मोदी ने कहा कि आज, जैविक खेती विश्व स्तर पर एक बड़ा बाजार है और पूरे उत्तरपूर्व में इसके लिए काफी क्षमता है। हम किसानों को जैविक खेती की तरफ बढ़ने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। इससे उनकी आय में बढ़ोतरी होगी।

R

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार नागालैंड की राजधानी कोहिमा को एक स्मार्ट शहर बनाने के लिए 1800 करोड़ रुपए खर्च करेगी।

इसे भी पढ़ें-: बढ़ी हुई फीस पर बोले पीयूष गोयल,रेलवे का एग्जाम देने वालों को फीस वापस कर देंगे

हम नागालैंड में सभी के लिए बिजली सुनिश्चित करना चाहते हैं। मोदी ने कहा कि हम 'सौभाग्य योजना' लाए हैं जो सभी घरों में बिजली प्रदान करेगा। अब तक, नागालैंड में 10 लाख से अधिक एलईडी बल्ब वितरित किए गए हैं, बिजली की खपत कम हो रही है।

नागालैंड का ऊर्जावान युवा, रचनात्मक महिलाएं, किसान और जनसांख्यिकीय लाभांश नई ऊंचाइयों को विकसित करने में मदद करेंगे।


कमेंट करें