नेशनल

PM ने किया 'खेलो इंडिया' का उद्घाटन, कहा- युवाओं के जीवन का अहम हिस्सा बनें खेल

अर्चित गुप्ता | 0
109
| जनवरी 31 , 2018 , 20:25 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में 'खेलो इंडिया स्कूल गेम्स' का उद्घाटन किया। इस दौरान इंदिरा गांधी स्टेडियम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर भी मौजूद थे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि खेल को हमारे युवाओं के जीवन का अहम हिस्सा बनना चाहिए, इससे उनके व्यक्तित्व का विकास होता है।

पीएम ने कहा कि व्यक्ति को अपनी व्यस्त दिनचर्या से खेल के लिए समय जरूर निकालना चाहिए। भारत में खेल के टैलेंट की कमी नहीं है। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी के विजन को ध्यान में रखते हुए 'खेलो इंडिया स्कूल गेम्स' में युवा खेल प्रतिभाओं की पहचान करेगा और उन्हें भविष्य के चैंपियन के रूप में विकसित करने में सहायता प्रदान करेगा।

पीएम ने कहा, "जब हम कहते हैं कि भारत को वैश्विक स्तर पर विकास करना है तो हमारा मतलब सिर्फ मजबूत आर्मी और अर्थव्यवस्था से नहीं होता है। इसका मतलब होता है कि भारत के लोग अपनी पहचान एक सफल वैज्ञानिक, आर्टिस्ट, खिलाड़ी के रूप में अपनी पहचान बनाएं. मुझे विश्वास है कि भारत इन ऊंचाइयों को जरूर हासिल करेगा।"

प्रधानमंत्री ने आगे कहा, "खेलो इंडिया का मकसद मेडल जीतना नहीं है। यह खेल को बढ़ावा देने की दिशा में एक कोशिश है। हम हर उस पहलू पर फोकस करना चाहते हैं जो भारत में खेल को और अधिक प्रचलित बनाएगा।" उन्होंने कहा, "ग्रामीण भारत और छोटे शहरों के युवाओं को खेल के क्षेत्र में बड़ी-बड़ी उपलब्धि हासिल करते देखना बेहद खुशी देता है। ऐसे खिलाड़ियों को सहयोग की जरूरत है जो हम उन्हें देना चाहते हैं।"

'खेलो इंडिया' का आयोजन 31 जनवरी से 8 फरवरी तक राष्ट्रीय राजधानी में किया जाएगा। 17 वर्ष से कम उम्र के युवा 16 खेलों तीरंदाजी, एथलेटिक्स, बैडमिंटन, बास्केटबाल, मुक्केबाजी, फुटबाल, जिमनास्टिक्स, हॉकी, जूडो, कबड्डी, खो-खो, निशानेबाजी, तैराकी, वॉलीबाल, भारोत्तोलन, कुश्ती में हिस्सा लेंगे।

इस आयोजन से भारत की युवा खेल प्रतिभाएं उभरकर सामने आएंगी और इससे देश की खेल शक्ति का भी पता चलेगा। 'खेलो इंडिया स्कूल गेम्स' में 199 स्वर्ण पदक, 199 रजत पदक और 275 कांस्य पदक दिए जाएंगे।


कमेंट करें