नेशनल

भारत को अपनी विरासत का प्रदर्शन गर्व से करना चाहिए : मोदी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1448
| जुलाई 12 , 2018 , 20:50 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि 'भारत को विश्व के सामने गर्व और आत्मविश्वास के साथ अपनी महान विरासत का प्रदर्शन करना चाहिए।' मोदी ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के मुख्यालय की नई इमारत 'धरोहर भवन' का उद्घाटन करते समय यह बात कही।

देश के इतिहास और पुरातात्विक विरासत पर लोगों के गर्व करने की जरूरत पर जोर देते हुए मोदी ने कहा कि हर किसी को स्थानीय इतिहास की जानकारी होनी चाहिए। प्रधानमंत्री ने कहा कि एएसआई ने पिछले 150 सालों में महत्वपूर्ण काम किया है। पुरातत्वविदों द्वारा प्रत्येक पुरातात्विक खोज के लिए लंबे समय तक कड़ी मेहनत की गई जो कि अपने आप में एक कहानी है।

उन्होंने कुशल रूप से प्रशिक्षित स्थानीय पर्यटन गाइडों के बारे में भी बात की। ये गाइड अपने-अपने क्षेत्र की विरासत और इतिहास के भली भांति परिचित होते हैं। एएसआई का नया मुख्यालय ऊर्जा संरक्षण की प्रकाश व्यवस्था तथा बारिश के पानी का संग्रहण करने सहित अन्य आधुनिक सुविधाओं से लैस है। इसमें एक केंद्रीय पुरातात्विक पुस्तकालय है जिसमें लगभग 1.5 लाख किताबें और पत्र-पत्रिकाएं हैं।

पुरातत्त्वविदों के काम की प्रशंसा करते हुए मोदी ने कहा कि विज्ञान की तरह ही वह भी बदलाव के वाहक होते हैं। वह सालों किसी जंगल, किसी पहाड़ पर चुपचाप अपना काम करते रहते हैं और जब उसका परिणाम दुनिया के सामने आता है तब लोगों को उसकी जानकारी होती है। उन्होंने कहा कि पुरानी शिलायें, पुराने पत्थर यह निर्जीव दुनिया नहीं है। यहाँ का हर पत्थर बोलता है, पुरातत्व से जुड़ी हर काग़ज़ की एक कहानी होती है। पुरातत्व के क्षेत्र में काम करने वाला व्यक्ति एक बहुत बड़ा बदलाव देता है, इतिहास को चुनौती देने का सामर्थ्य भी उस पत्थर से पैदा हो जाता है।

यहां देखें पूरा वीडियो


कमेंट करें