राजनीति

कांग्रेस से नाराज हुए प्रशांत किशोर, अब दक्षिण के इस बड़े नेता को दे रहे हैं सलाह

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
111
| जून 18 , 2017 , 15:45 IST | हैदराबाद

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में मिली करारी शिकस्त के बाद कांग्रेस ने अपने चुनावी राजनीतिकार प्रशांत किशोर को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। अब सुनने में आ रहा है कि कांग्रेस से नाराज होकर प्रशांत किशोर ने आंध्र प्रदेश में अपने लिए नया ठिकाना बनाया है। YSR Congress Party सुप्रीमो वाईएस जगन मोहन रेड्डी के लिए अब चुनावी रणनीति बनायेंगे प्रशांत किशोर।

Pk 1

2019 में लोकसभा के साथ होगा आंध्र प्रदेश में विधानसभा चुनाव

बताया जा रहा है कि पीके की टीम आंध्र प्रदेश पहुंच गई है और जगन की पार्टी वाईएसआर कांग्रेस के लिए काम करने लगी है. आंध्र प्रदेश में विधानसभा का चुनाव लोकसभा के साथ 2019 में होना है।

Jagan

जगन रेड्डी को सीएम का चेहरा बना कर किया जा राह प्रोजेक्ट

ठीक दो साल पहले पीके की टीम ने काम शुरू किया है। वहां चेहरे भी घोषित है। पीके के जगन मोहन को मुख्यमंत्री बनाने के लिए काम करना है। एंटी इन्कंबैंसी का भी खतरा नहीं है क्योंकि केंद्र और राज्य दोनों जगह बीजेपी और टीडीपी की सरकार है। सो, कहा जा सकता है कि पीके को अपना कमाल दिखाने की आदर्श स्थिति मिल रही है।

पीके की टीम ने आंध्र में शुरू कर दिए हैं काम

बताया जा रहा है प्रशांत किशोर ने पार्टी कार्यालय और जगन के रहने के लिए भी स्थान की तलाश शुरू कर दी गयी है। पार्टी कार्यालय का स्थान लीज पर लिया जायेगा, जो अंडवल्ली, तड़ेपल्ली, विजयवाड़ा के आसपास का होगा। प्रशांत किशोर ने पहला कदम उठाते हुए क्षेत्र का सर्वेक्षण भी शुरू कर दिया है।

जगन की पार्टी के 20 नेता छोड़ चुके हैं पार्टी

जगन रेड्डी के सामने सबसे बड़ी समस्या यह है कि उसके करीब 20 नेता पार्टी छोड़ कर तेलुगू देशम पार्टी में शामिल हो गये हैं। इस समस्या से निबटने के लिए टीडीपी में शामिल हुए विधायकों की पार्टी के प्रति उनकी निष्ठा और उनके द्वारा लिये गये फैसले के कारणों पर भी रिसर्च जारी है। इसके साथ ही अगले चुनाव के संभावित प्रत्याशियों के चयन का अध्ययन भी शुरू कर दिया गया है।

Jagan 2


कमेंट करें