नेशनल

बाइक पर सवार होकर किसानों से मिलने मंदसौर जा रहे थे राहुल, पुलिस ने किया गिरफ्तार

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
154
| जून 8 , 2017 , 15:22 IST | मंदसौर

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को मध्यप्रदेश-राजस्थान की सीमा पर नयागांव में पुलिस ने रोक कर हिरासत में ले लिया। राहुल गांधी मोटरसाइकिल से मंदसौर जाने की कोशिश कर रहे थे। उन्हें विक्रम गेस्ट हाउस में ले जाया गया, इस दौरान राहुल की पुलिस के साथ झड़प भी हुई। उनके साथ मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पुलिस द्वारा रोके जाने का विरोध किया। जेडीयू नेता शरद यावद को भी हिरासत में लिया गया है। 

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि मैं तो सिर्फ पुलिस फायरिंग में मारे गए किसानों के परिजनों से मिलना चाहता था, उनकी बात सुनना चाहता था। कोई कारण नहीं दिया बस कहा कि गिरफ्तार कर रहे हैं।

आपको बता दें कि पहले ही प्रशासन ने राहुल गांधी को मंदसौर जाने की इजाजत नहीं दी थी। जिसके बाद राहुल गांधी पहले राजस्थान के उदयपुर पहुंचे फिर वहां से सड़के के रास्ते मंदसौर के लिए रवाना हुए। रास्ते में राहुल गांधी बाइक पर सवार हो गए। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। 

बताया जा रहा है कि हिरासत में लेने के बाद पुलिस ने राहुल गांधी को घारा 151 के तहत गिरफ्तार कर लिया है। 


कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव ने बताया कि राहुल गांधी हवाई जहाज से उदयपुर पहुंच चुके हैं, उसके बाद उनकी नयागांव से होते हुए मंदसौर में प्रवेश करने की योजना है। यहां वह उन किसान परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करने आ रहे हैं, जिनके सदस्य पुलिस की बर्बरता के शिकार हुए।

वहीं जिलाधिकारी स्वतंत्र कुमार सिंह ने बताया कि राहुल गांधी को मंदसौर में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई है। स्वतंत्र कुमार सिंह का हालांकि तबादला कर दिया गया है, लेकिन वह अभी कार्यमुक्त नहीं हुए हैं।

पुलिस प्रशासन के अनुसार, राहुल गांधी के आने की सूचनाओं के मद्देनजर राजस्थान से मध्य प्रदेश को जोड़ने वाले मार्ग पर बैरीकेटिंग की गई है और पुलिस बल तैनात किया गया है।


ज्ञात हो कि राहुल गांधी की बुधवार की इंदौर होते हुए मंदसौर जाने की योजना थी, मगर प्रशासन की ओर से अनुमति न मिलने के कारण उनका दौरा निरस्त हो गया था। अब वह राजस्थान से होते हुए मंदसौर आ रहे हैं।

ज्ञात हो कि राज्य के किसान एक जून से आंदोलन कर रहे है। मालवा-निवाड़ अंचल में किसानों का आंदोलन उग्र बना हुआ है। मंगलवार को पुलिस द्वारा मंदसौर में की गई गोलीबाली में पांच किसानों की मौत हो गई थी। इसके बाद बुधवार को आंदोलन की आग आसपास के नीमच, देवास आदि जिलों में भी फैल गई।


कमेंट करें