नेशनल

मंदसौर रेप केस पर बोले राहुल गांधी, बच्चियों की हिफाजत के लिए एकजुट हो देश  

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1697
| जून 30 , 2018 , 17:50 IST

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को मध्य प्रदेश के मंदसौर में आठ वर्षीय छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद उसे बुरी तरह घायल करने के मामले के खिलाफ हमला बोलते हुए कहा कि बच्चों को बचाने के लिए देश को एकजुट होना चाहिए। राहुल ने ट्वीट किया, "मंदसौर में आठ वर्षीय बच्ची का अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। बच्ची अपनी जिंदगी के लिए संघर्ष कर रही है।"

उन्होंने कहा, "बच्ची के साथ जिस तरह की क्रूरता हुई है, उसने मुझे परेशान कर दिया है। अपने बच्चों को बचाने और अपराधियों को जल्द सजा दिलाने के लिए हमें एक देश के रूप एकजुट होना होगा।"



छात्रा मंगलवार को जब स्कूल के बाहर अपने पिता का इंतजार कर रही थी तभी उसका अपहरण कर लिया गया था।

इसके बाद उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया, उसका गला रेत दिया गया और मरने के लिए छोड़ दिया गया था। इसके अगले दिन मध्य प्रदेश पुलिस ने सीसीटीवी फूटेज के आधार पर एक मजदूर इरफान उर्फ भैयू (20) को गिरफ्तार किया था।

इरफान ने अपराध में साथ रहे एक अन्य मजदूर आसिफ (24) का नाम बताया, जिसे पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया। दोनों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता के अंतर्गत संबंधित धाराओं तथा बाल यौन अपराध संरक्षण (पोस्को) कानून के तहत मामले दर्ज किए गए। हालांकि इस दौरान जांच जारी रही।

इंदौर में बच्ची का इलाज कर रहे चिकित्सकों का कहना है कि पीड़िता को गंभीर चोटें आईं हैं, हालांकि उसमें सुधार हो रहा है। उन्होंने कहा कि नाबालिग बच्ची शारीरिक रूप से खतरे से बाहर हो सकती है, लेकिन उसका मानसिक आघात लंबे समय तक रहेगा।

इस जघन्य अपराध पर कई राजनीतिक और अन्य प्रसिद्ध हस्तियों ने सोशल मीडिया पर अपने गुस्से का इजहार किया है।

वरिष्ठ अभिनेत्री शबाना आजमी ने कहा, "यह जघन्यतम है। इस दुनिया में हो क्या रहा है? अपराधियों को जेल भेज सबसे सख्त सजा देनी चाहिए।"

कांग्रेस महासचिव और राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने घटना की निंदा करते हुए कहा, "ऐसा जघन्य अपराध मानवता के लिए शर्म की बात है। हम सभी पीड़िता और उसके परिवार के साथ हैं।"

टिप्पणीकार और दक्षिणपंथी कार्यकर्ता राहुल ईश्वर ने अपराध के खिलाफ आगे आने और अपराधियों को सख्त सजा दिलाने की मांग करने के लिए मंदसौर के सभी मुस्लिम संगठनों की प्रशंसा की।

राहुल ने खबर से संबंधित एक खबर को टैग करते हुए ट्वीट किया, "मंदसौर में हमारे मुस्लिम नेताओं की सराहना और सम्मान। मुस्लिम समुदाय के नेताओं ने मंदसौर कांड के आरोपी इरफान के बारे में कहा- समुदाय के कब्रिस्तान में दुष्कर्म के आरोपी के लिए कोई जगह नहीं और उसकी मौत पर कोई नमाज नहीं पढ़ेगा।"

घटना के बाद मध्य प्रदेश के विभिन्न शहरों में आरोपी को मृत्युदंड देने की मांग करते हुए विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को घटना की निंदा करते हुए कहा कि दुष्कर्म करने वाले धरती पर बोझ हैं और उनकी सरकार दोषियों को फांसी पर लटकाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी।

उन्होंने पीड़िता का बेहतरीन इलाज कराने का आश्वासन देते हुए कहा था कि भविष्य में उसकी देखभाल और उसकी सारी जरूरतों का खर्च सरकार वहन करेगी।


कमेंट करें