नेशनल

स्निफर और ट्रैकर्स डॉग की संख्या बढ़ाने के लिए रेलवे शुरू करेगा श्वान प्रजनन केंद्र

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
108
| अप्रैल 17 , 2017 , 12:03 IST | नई दिल्ली

आतंकवाद और आपराधिक गतिविधियों से निपटने के लिए रेलवे ने सूंधने की क्षमता रखने वाले कुत्तों की संख्यां बढ़ाने का फैसला लिया है। विस्फोटकों और मादक पदार्थों पदार्थ की छानबीन के लिए खास नस्ल के कुत्तों की आवश्यकता को देखते हुए रेलवे ने अपना श्वान प्रजनन केंद्र स्थापित करने का फैसला लिया है।

1zegww5

वर्तमान में रेलवे के श्वान दस्ते में केवल 332 कुत्ते हैं जबकि इसकी क्षमता 459 श्वानों की निर्धारित की गयी है। वहीं रेलवे के पास राजधानी की दया बस्ती और चेन्नई के पोदानूर में सिर्फ 23 कुत्तों को ही प्रशिक्षित करने की सीमित क्षमता है।

Juliet

श्वान दस्ते के प्रबंधन के लिये जिम्मेदार रेलवे सुरक्षा बल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ”रेलवे को सूंघने की क्षमता रखने वाले और किसी चीज की पता लगाने में सक्षम स्निफर और ट्रैकर कुत्तों सहित 2,600 प्रशिक्षित कुत्तों की जरूरत है लेकिन हमारा श्वान दस्ता क्षमता से बेहद कम है।”

Indian-sniffer-dogs-2

उम्मीद है कि जल्द ही प्रशिक्षित कर्मचारियों के साथ केंद्रीय श्वान प्रजनन एवं प्रशिक्षण केन्द्र रेलवे की जमीन पर होगा। इसके लिये रेलवे अपने श्वान दस्ते को मजबूत करने की दिशा में आधुनिक केन्द्र विकसित करने के लिये एक उपयुक्त जगह निर्धारित करने की प्रक्रिया में हैं।


कमेंट करें

अभी अभी