नेशनल

राम रहीम को जेल लेकर जाने वाले हेलीकॉप्टर का मोदी कनेक्शन, क्या है सच्चाई

ललिता सेन, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
318
| अगस्त 27 , 2017 , 18:02 IST | नई दिल्ली

बलात्कारी राम रहीम को पंचकूला की स्पेशल सीबीआई कोर्ट से रोहतक जेल ले जाने के लिए इस्तेमाल किए गए हेलीकॉप्टर को लेकर विवाद पैदा हो गया है। दरअसल, विवाद खड़ा होना लाजमी भी है क्योंकि आजकल सोशल मीडिया पर एक तस्वीर खूब वायरल हो रही है जिसको लेकर दावा किया जा रहा है कि राम रहीम को जेल ले जाने के लिए जिस हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया गया है वह गुजरात के एक बड़े कारोबारी गौतम अडानी का है और इसी हेलीकॉप्टस से पीएम मोदी भी पहले सफर कर चुके हैं।

राम रहीम को पंचकूला से AW-139 हेलीकॉप्टर में ले जाया गया था जो कि वीआईपी और कारोबारियों के सफर के लिए ही इस्तेमाल होता है। 15 सीट वाला ये हेलीकॉप्टर अगस्ता वेस्टलैंड कंपनी का है। बता दें कि, ऐसे ही हेलीकॉप्टर को पीएम मोदी ने 2014 के चुनाव में प्रचार के लिए इस्तेमाल किया था, इसी वजह से सोशल मीडिया पर खबर फैल रही है कि जिस हेलीकॉप्टर से मोदीजी सफर करते थे, उसी में राम रहीम को जेल ले जाया गया।

HELICOPTER

बता दें कि, यह झूठी अफवाह इसलिए फैल रही है क्योंकि पीएम मोदी और राम रहीम के हेलीकॉप्टर का नंबर एक जैसा है। हालांकि सोशल मीडिया पर फैल रही ये खबर सिर्फ अफवाह है। वहीं, इस अफवाह पर हरियाणा सरकार ने कहा है कि राम रहीम को सड़क मार्ग से रोहतक ले जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता, इसलिए उसके लिए हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया गया।

इस मामले को बढ़ता देख AW-139 हेलीकॉप्टर एक निजी कंपनी से किराये पर लिया गया था। हरियाणा के डीजीपी ने साफ कह दिया है कि हेलीकॉप्टर के अडानी की कंपनी का होने की बात सही नहीं है बल्कि सरासर झूठ है।

आपको बता दें कि,अडानी ही नहीं बल्कि भारत में 20 लोग कंपनी से ये हेलीकॉप्टर खरीद चुके हैं। यानी 2011 में ही भारत में ऐसे 20 से ज्यादा हेलीकॉप्टर मौजूद थे। 2017 में तो इनकी संख्या और बढ़ गई होगी।


कमेंट करें