अभी-अभी

कानून मंत्री का अजीबोगरीब बयान: मुस्लिम हमें वोट नहीं देते, क्या हमने कभी परेशान किया?

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
99
| अप्रैल 22 , 2017 , 12:51 IST | नई दिल्ली

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मुसलमान वोटरों के लिए एक अजीबोगरीब बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि मुसलमान बीजेपी को वोट नहीं देते हैं, लेकिन हमारी सरकार ने उन्हें ‘समुचित सम्मान’ दिया है।

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद शुक्रवार को माइंड माइन सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। सम्मेलन को संबोधित करते उन्होंने कहा कि,

हमारे 13 मुख्यमंत्री हैं, हम देश का शासन चला रहे हैं, क्या हमने उद्योग या सेवा क्षेत्र में काम कर रहे किसी मुसलमान को परेशान किया है? हमने उन्हें बर्खास्त किया है? हमें मुसलमानों के वोट नहीं मिलते हैं। मैं स्पष्ट रूप से इसे स्वीकार करता हूं, लेकिन हमने उन्हें पूरा सम्मान दिया है या नहीं?

मंत्री प्रसाद संस्कृति और विविधता पर विकास के प्रभाव के संबंध में पूछे गए सवाल का जवाब दे रहे थे। प्रसाद ने कहा कि,

हम भारत की विविधता और संस्कृति को नमन करते हैं। इसे देखने के दो तरीके हैं। आज मैं स्पष्ट बोलूंगा। हमारे खिलाफ लंबे वक्त से अभियान चल रहा है, लेकिन हम भारत की जनता के आशीर्वाद से यहां हैं।

उन्होंने कहा कि हाल में पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में प्रभावी जीत दर्ज की है।

Rsp 2

पार्टी ने गोवा और मणिपुर में भी सरकार बनाई। मुख्य प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस को सिर्फ पंजाब में स्पष्ट बहुमत मिला।

मुस्लिम चाय बागान कर्मचारी का दिया उदाहरण

मंत्री प्रसाद ने कहा कि बतौर सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री उन्होंने कई मुसलमान बहुल गांवों का दौरा किया है। प्रसाद के मुताबिक, यहां मुस्लिम युवक सामुदायिक सेवा केंद्र चला रहे हैं, जो लोगों को इंटरनेट के माध्यम से सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने में मदद करते हैं। प्रसाद ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा जलपाईगुड़ी के चाय बगान में काम करने वाले मुस्लिम कर्मचारी करीमुल हक को उसके योगदान के लिए चुने जाने का जिक्र किया।

प्रसाद ने कहा, हक ने अपनी मोटरसाइकल को एंबुलेंस में बदल लिया है और बीमारों को अस्पताल ले जाते हैं। इस तरह उन्होंने करीब 2000 लोगों की जिंदगी बचाई है।
रविशंकर प्रसाद ने कहा कि,

हमने कभी भी हक का धर्म नहीं देखा, न ही यह देखा कि उसने हमारे लिए वोट दिया था या नहीं। यदि कुछ अवांछित बातें होती हैं तो प्रधानमंत्री उस समस्या को सुलझाते हैं, मुख्यमंत्री इन दिक्कतों को दूर करते हैं

मोदी के खिलाफ 'नफरत फैलाने वालों' पर ली चुटकी

वहीं, यूपी के सीएम पर बोलते हुए प्रसाद ने कहा, 'योगी (आदित्यनाथ) लोकप्रिय नेता हैं। आप सुशासन और विकास पर उनका रुख देख रहे हें। मंत्री ने कहा कि,

मोदी के खिलाफ ‘घृणा’ फैलाने वाले वामपंथियों और पत्रकारों के साथ कुछ दिक्कत है

उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा, ‘हमें अपने कुछ मित्रों के साथ दिक्कत है। ज्यादातर, वामपंथी मित्रों और पत्रकारों के साथ जो नरेंद्र मोदी के खिलाफ नफरत फैलाते हैं। उन्हें शुभकामनाएं।

Rsp 5


कमेंट करें