बिज़नेस

खुशखबरी: 5 साल में सबसे निचले स्तर पर पहुंची महंगाई दर, ब्याज दरें हो सकती हैं कम

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
399
| जून 12 , 2017 , 21:01 IST | नयी दिल्ली

आर्थिक मोर्चे पर सोमवार को देश के लिए दो अच्छी खबर आई। पहली खबर औद्योगिक सेक्टर में तेजी की आई। वहीं दूसरी बड़ी खबर आई महंगाई को लेकर। दरअसल मई में खुदरा महंगाई दर में कमी आई है। मई में खुदरा महंगाई दर (सीपीआई) घटकर 2.18 फीसदी रही है, जबकि अप्रैल में रिटेल महंगाई दर 2.99 फीसदी रही थी। 2012 के बाद मई में रिटेल महंगाई दर सबसे निचले स्तर पर आ गई है।

9

हालांकि कोर महंगाई दर में इजाफा हुआ है। महीने दर महीने आधार पर मई कोर महंगाई दर 4.5 फीसदी से बढ़कर 4.7 फीसदी रही है। 

खुदरा महंगाई दर में गिरावट के कारण:

खुदरा महंगाई दर में रिकॉड गिरावट की मुख्य वजह खाद्य महंगाई दर में गिरावट है। खाद्य वस्तुओं की कीमतों में गिरावट के चलते खुदरा महंगाई दर में भी भारी गिरावट आई है।

खुदरा महंगाई दर और गिरेगा ?

दरअसल इस साल मॉनसून बेहतर रहने की उम्मीद है, ऐसे में अनाज के रिकॉड उत्पादन होने की संभावना जताई जा रही है। ऐसे में खाद्य-पीने वाली चीजों के दामों में और कमी आएगी। फलस्वरूप खुदरा महंगाई दर गिरकर और भी नीचे जा सकता है।

 

ब्याज दर में कतौटी के लिए आरबीआई पर बढ़ा दवाब

रिजर्व बैंक ने लंबे समय से ब्याज दरों में कटौती नहीं की है। आरबीआई की दलील है कि महंगाई कंट्रोल में नहीं है, लेकिन खुदरा महंगाई दर के ताजा आंकड़े आने के बाद ब्याज दरों में कटौती के लिए निश्चित रूप से रिजर्व बैंक पर दवाब बढ़ेगा।


कमेंट करें

अभी अभी