नेशनल

मुसलमानों को जन्नत के पौधे की सच्चाई बताएगा RSS, जानिए क्या है वो?

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
371
| जुलाई 25 , 2017 , 15:39 IST | नई दिल्ली

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) अब मुस्लिमों को जन्नत के पौधे 'रेहान' की सचाई बताएगा। उन्हें बताया जाएगा कि कुरान में जिस जन्नत के पौधे का जिक्र है, वह असलियत में क्या है। आरएसएस का मानना है कि पवित्र कुरान में जिस जन्नत के पौधे का जिक्र किया गया है वो कुछ और नहीं बल्कि तुलसी का पौधा है।

संघ से जुड़ा संगठन मुस्लिम राष्ट्रीय मंच सितंबर और अक्टूबर में देश के हर कोने में यह अभियान चलाएगा, जिसके तहत घर-घर जाकर मुस्लिमों से तुलसी का पौधा लगाने को कहा जाएगा। संघ के वरिष्ठ प्रचारक इंद्रेश कुमार के एक हिन्दी अखबार को दिए इंटरव्यू के मुताबिक, 'हर मुस्लिम के घर पर स्वर्ग यानी जन्नत का पौधा होना चाहिए। कुरान में रेहान का ज्रिक है, लेकिन मौलाना इस बात को छुपाते रहे हैं और नफरत फैलाने का काम करते रहे हैं।' 

इंद्रेश कुमार का मानना है कि रेहान अरबी भाषा का शब्द है, जिसे अंग्रेजी में बैजल और हिंदी में तुलसी कहते हैं।

तुलसी को अरबी में कहा जाता है रेहान यानी जन्नत का पौधा 

2-basil-625-2_626x350_81446529728

उन्होंने कहा कि आरएसएस घर-घर जाकर लोगों को संदेश देगा कि जन्नत का पौधा कुछ और नहीं बल्कि तुलसी है और इसे लगाने से घर की हवा शुद्ध रहती है, इसके साथ ही यह पौधा दवाई के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। उन्‍होंने कहा कि भाईचारे की बजाय नफरत को बढ़ावा देने वाले लोग तुलसी को हिंदू से जोड़ते हैं और इस तरह प्रचार करते हैं कि जैसे तुलसी सिर्फ हिंदुओं का ही है और मुस्लिमों को इससे दूर रहना चाहिए।


कमेंट करें