बिज़नेस

भारत में बनेगा ग्रिपेन फाइटर, साब और अडानी के बीच हुआ करार

icon कुलदीप सिंह | 0
417
| अगस्त 31 , 2017 , 12:53 IST

अब भारत में ग्रिपेन फाइटर जेट और फाइटर प्लेन f-16 का निर्माण होगा। भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों के बेड़े में स्वीडन की कंपनी साब ग्रिपेन फाइटर शामिल करने में हमारी मदद करेगी।

अमेरिका की एयरोस्पेस कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने फाइटर प्लेन f-16 और जेट्स के निर्माण के लिए भारत में मैन्युफैक्चरिंग की पेशकश की है। अमेरिकी रक्षा दिग्गज लॉकहीड और स्वीडन की साब भारतीय वायुसेना के लिए 100-200 सिंगल इंजन जेट विमानों बनाएगी। बता दें कि ग्रिपेन फाइटर जेट के निर्माण के लिए साब और अडानी ग्रुप के बीच करार हुआ है। इस करार की जल्द घोषणा की जाएगी

इस डील के तहत भारतीय सेना को करीब 100 सिंगल इंजन फाइटर विमानों की सप्लाई की जाएगी, जिनका निर्माण भारत में ही होगा। इस डील की दौड़ में अमेरिका की बड़ी कंपनी के साथ स्वीडन की साब भी है। बता दें कि, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 'मेक इन इंडिया' योजना के तहत ही फाइटर प्लेन f-16 को भारत में तैयार किया जा रहा है।

F16

आपको बता दें कि ,जून में अमेरिकी दौरे पर गए पीएम मोदी ने अमेरिकी कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने भारत में फाइटर फ्लेन f-16 बनाने के लिए टाटा समूह से करार किया था।

लॉकहीड के लिए फाइटर फ्लेन f-16 के बिजनेस डेवेलपमेंट अधिकारी रैंडल एल हॉवर्ड ने बताया कि भारत को लॉकहीड ने यह ऑफर दिया है कि वह यहां अपना f-16 प्रॉडक्शन सेंटर खोलना चाहती है और इसके लिए वह यहां भारत के अलावा दूसरे देशों के लिए भी f-16 विमानों को निर्यात करना चाहती है।

लड़ाकू विमान 'ग्रिपेन' की विशेषताएं

-ग्रिपेन विमान मौजूदा समय के सबसे बेहतरीन लड़ाकू विमानों में से एक है।

-ये अमेरिका के FA-18 सुपर हॉरनेट, और फ्रांसीसी रॉफेल विमानों से भी बेहतर है।

-ग्रिपेन विमान हर परिस्थिति में हमला करने में सक्षम है।

-नौसैनिक बेड़े में शामिल होने की विशेषताएं इसे खास बनाती है।

-ग्रिपेन विमान दुनिया में सबसे तेज(मैक-2 स्पीड-सुपरसोनिक) हमला करने में सक्षम है।

-ये बेहद छोटे(25मीटर) की पट्टी पर भी लैंड करने में सक्षम है।

Remembering Diana (2)


F-16 में क्या है खास

- F-16 फाइटर फलकॉन, एक इंजन वाला सुपरसोनिक मल्टीरोल फाइटर एयरक्राफ्ट है।

- F-16 फोर्थ जनेरेशन का सबसे आधुनिक फाइटर जेट है।

- F-16 का सबसे एडवांस रडार सिस्टम है।

- उम्दा GPS नैविगेशन भी F-16 की खासियत है।

- F-16 एयरक्राफ्ट में एडवांस स्नाइपर टारगेटिंग पॉड भी है।

- F-16 की अधिकतम गति 1,500 मील प्रति घंटे हैं।

- F-16 किसी भी मौसम में काम कर सकता है।

- F-16 में फ्रेमलेस बबल कॉनोपी है, जिससे देखने मे सुविधा होती है।

 

Abf


author
कुलदीप सिंह

Executive Editor - News World India. Follow me on twitter - @KuldeepSingBais

कमेंट करें