अभी-अभी

कांग्रेसी नेता सैफुद्दीन सोज का विवादित बयान, कहा- सत्ता में होते तो बुरहान को जिंदा रखते

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
90
| जुलाई 7 , 2017 , 15:00 IST | श्रीनगर

घाटी में हिजबुल आतंकी बुरहान वानी की बरसी के नजदीक आने पर कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज ने कुछ ऐसा बयान दिया है कि सियासत फिर से गरमा गई है। कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज ने कहा है कि अगर वह पावर में होते तो बुरहान वानी को जिंदा रखते। उन्होंने कहा अगर बुरहान जिंदा होता तो वह उनसे बात करते।

सैफुद्दीन सोज ने कहा है कि मैं बुरहान वानी से संपर्क कायम करना चाहता था। मैं उन्हें समझाने की कोशिश करता कि कश्मीर मसले पर भारत और पाकिस्तान के बीच दोस्ती का पुल बनाया जा सकता है और बुरहान इस काम में मददगार साबित हो सकते थे। लेकिन बुरहना मर चुका है। उन्होंने कहा कि हमें कश्मीरियों के दर्द को समझना चाहिए।

बीजेपी ने कहा- कांग्रेसी आतंकी को कर रहे महिमामंडित

सैफुद्दीन सोज के इस बयान पर बीजेपी ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। जम्मू-कश्मीर के डिप्टी सीएम निर्मल सिंह ने कहा कि जो लोग आतंकियों को नेता कहते हैं, क्या वे उन्हें महिमामंडित करना चाहते हैं? आतंकियों को आतंकी ही समझा जाना चाहिए।

बुरहान की मौत के बाद 5 महीने तक घाटी रहा था अशांत, 73 लोगों की मौत

इसी बीच बुरहान की बरसी नजदीक आने के मद्देनजर कश्मीर घाटी में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। बुरहान कश्मीर घाटी में हि्ज्बुल मुजाहिदीन का पोस्टर बॉय था। पिछले साल 8 जुलाई को जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में हुए एनकाउंटर में वह मारा गया था।

Burhan 1

बुरहान की मौत के बाद घाटी में कई प्रदर्शनों का दौर शुरू हो गया और लगातार 53 दिनों तक कर्फ्यू लगा रहा। हालांकि, घाटी में करीब 5 महीनों तक शांति रही और इस दौरान 73 लोगों की मौत हुई, जिसमें दो पुलिसवाले शामिल थे।


कमेंट करें