मनोरंजन

BMC ने सलमान खान के NGO ‘बीइंग ह्यूमन’ को किया ब्लैकलिस्टेड

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
447
| फरवरी 15 , 2018 , 16:48 IST

सलमान खान के एनजीओ बीइंग ह्यूमन को हाल ही में मुसीबत का सामना करना पड़ा है। मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने सलमान खान के नामी एनजीओ बीईंग ह्यूमन को ब्लैकलिस्ट सूची में डाल दिया है। बीईंग ह्यूमन पर आरोप है कि उसने बीएमसी के साथ वादाखिलाफी की है। इसके खिलाफ एनजीओ को कारण बताओ नोटिस भी भेजा गया है।

साल 2016 में बीइंग ह्यूमन ने बीएमसी के साथ डायलिसिस सेंटर खोलने के लिए कोलॉब्रेट किया था। अब एनजीओ पर अपनी बात पर कायम ना रहने का आरोप लगा है और खबर ये भी है कि इसे ब्लैकलिस्ट कर दिया गया है।

मुंबई मिरर की खबर के मुताबिक साल 2016 में बीएमसी ने पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहेत 12 डायलिसिस सेंटर खोलने की योजना बनाई थी। इस दौरान बीएमसी ने लगभग 350 रुपये इलाज की फीस रखी थी। सलमान के एनजीओ ने 339.50 रुपये में डायलिसिस सर्विसेज लोगों तक पहुचांने का निर्णय लिया था। इसमें एनजीओ ने बांद्रा में 24 डायलिसिस मशीनें लगाने की बात कही थी।

मुंबई मिरर की खबर के मुताबिक साल 2016 में बीएमसी ने पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहेत 12 डायलिसिस सेंटर खोलने की योजना बनाई थी। इस दौरान बीएमसी ने लगभग 350 रुपये इलाज की फीस रखी थी। सलमान के एनजीओ ने 339.50 रुपये में डायलिसिस सर्विसेज लोगों तक पहुचांने का निर्णय लिया था। इसमें एनजीओ ने बांद्रा में 24 डायलिसिस मशीनें लगाने की बात कही थी।

ये भी पढ़ें-साउथ की मलाइका 'हिना पांचाल' ने कराया टॉपलेस फोटोशूट( तस्वीरें )

बीएमसी के अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की है कि सलमान के एनजीओ को नोटिस भेजा गया है और इस प्रोजेक्ट के लिए एनजीओ ने जो राशि जमा की थी उसे भी जब्त कर लिया गया है।

एनजीओ की प्रवक्ता लोरेटा लूइस ने इस खबर पर दिए अपने बयान में सफाई दी है कि उन्होंने बीएमसी के साथ आधिकारिक तौर पर कोई करार नहीं किया था। इस प्रोजेक्ट को लेकर फाउंडेशन की कुछ अपनी शर्तें थीं जिन पर बातचीत चल रही थी। लेकिन उन शर्तों को इस करार में शामिल नहीं किया जा सका था।

क्या है मामला?

मुंबई के दहिसर इलाके में शिवम अस्पताल को चलाने वाला एनजीओ 50 रुपए में डायलसिस की सेवा मुहैया कराता है जबकि बीएमसी के अस्पतालों में डायलसिस कराने का खर्च 350 रुपए आता है। इसको कम करने के लिए बीएमसी ने दूसरे एनजीओ से भी सेवा लेने का टेंडर निकाला था जिसमें बीईंग ह्यूमन ने भी आवेदन किया था। सलमान के फाउंडेशन ने डायलसिस का लागत 339.25 रुपए ऑफर की थी।

क्या है बीईंग ह्यूमन फाउंडेशन

सलमान खान का ये एनजीओ गरीबों के इलाज का खर्च उठाता है। सलमान अपने क्लोदिंग ब्रांड से भी कपड़े बेचकर इस फाउंडेशन के लिए पैसा जुटाते हैं। हर साल ये फाउंडेशन सैंकड़ों गरीबों के इलाज कराता है जिसमें कैंसर जैसी घातक बीमारी का इलाज शामिल है।

टैग्स: Salman khan|BMC| being human

कमेंट करें