अभी-अभी

संजय सिंह ने कहा-'आप' को खत्म करने की हो रही साज़िश,बेबुनियाद आरोपों पर इस्तीफा नहीं

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
172
| मई 8 , 2017 , 14:55 IST | नयी दिल्ली

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर कपिल मिश्रा द्वारा भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए हैं। जिसका जवाब देने आए संजय सिंह ने उनपर जमकर हमला बोला। संजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि कपिल मिश्रा के आरोप एक बड़ी साजिश का हिस्सा है।

संजय सिंह ने कहा कि क्या अरविंद केजरीवाल जब रिश्वत ले रहे थे तब कपिल मिश्रा को बुलाकर कहा कि आ जाओ, देख लो कि मैं रिश्वत ले रहा हूं। उन्होंने कहा कि रविवार से बीजेपी के नेता हरीशचंद्र हो गए।

संजय सिंह की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कुछ खास बातें : -

कपिल का आरोप लगाना मंत्री पद से हटाए जाने की बौखलाहट है।


कपिल बीजेपी की भाषा बोल रहे हैं। उन्हें बताना चाहिए कि आप किसी समय केजरीवाल के घर गए थे।


पहले लगातार टैंकर घोटाले में सवाल खड़ा करते रहे हैं, एसीबी दबाव में हैं वो केजरीवाल को बदनाम करना चाहते हैं। एसीबी केंद्र सरकार के अंडर आती है। एसीबी और कपिल बीजेपी की भाषा बोल रहे हैं।


देश में जवान शहीद हो रहे हैं, इस बात की चिंता को छोड़कर केंद्र सरकार आम आदमी पार्टी के पीछे पड़ी हैं।

बीजेपी पूरे देश में विपक्ष की आवाज को दबाने की कोशिश कर रही है। बीजेपी की सरकार आम आदमी पार्टी का गला घोटने की कोशिश कर रही है।


हमारी पार्टी भ्रष्टाचार के लिए जीरो टॉलरेंस की पॉलिसी अपनाती है। हमारी पार्टी का नियम है

अगर केजरीवाल और मनीष के खिलाफ कोई भ्रष्टाचार का आरोप लगता है तो हम कार्रवाई करने के लिए कहते हैं।


अगर केजरीवाल के बेटे पर भ्रष्टाचार के आरोप लगते हैं या फिर मनीष के ऊपर या फिर मेरे ऊपर उसके खिलाफ पार्टी तुरंत एक्शन लेगी।


सभी पार्टियां कह रही हैं कि इस्तीफा दें, लेकिन हम बेबुनियाद आरोपों पर इस्तीफा नहीं देंगे।

संजय सिंह ने भ्रष्टाचार का जिक्र करते हुए कहा कि हर सवाल का जवाब देने के लिए अरविंद केजरीवाल सामने नहीं आएंगे। हम लोगों को कांग्रेस और बीजेपी से सीखने की जरूरत नहीं है। देश में 56 इंच की सरकार है, हमारे खिलाफ किसी भी तरह की कार्रवाई कर सकती है। हमारी किसी भी जांच एजेंसी से जांच करा सकती है।

गौरतलब है कि दिल्ली सरकार के मंत्री पद से हटाए जाने के बाद कपिल मिश्रा ने एंटी करप्शन ब्यूरो के ऑफिस जाकर वाटर टैंकर घोटाले का सबूत दिए। एसीबी ऑफिस से बाहर आने के बाद कपिल मिश्रा ने कहा कि मैंने टैंकर घोटाले के सबूत ACB को दिए हैं। किस तरह अरविंद केजरीवाल और उनके दो साथियों ने मिलकर शीला दीक्षित को बचाने की कोशिश की है


कमेंट करें

अभी अभी