नेशनल

सरदार सरोवर बांध: PM मोदी आज अपने जन्मदिन पर करेंगे उद्घाटन, जानिए बड़ी बातें

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
173
| सितंबर 17 , 2017 , 10:55 IST | अहमदाबाद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नर्मदा नदी पर बने सरदार सरोवर बांध का रविवार को उद्घाटन करेंगे। अपने 67वें जन्मदिन पर मोदी बांध के 30 दरवाजे खोलेंगे। गुजरात के नर्मदा में बने इस बांध का जबरदस्त विरोध भी हो रहा है, मध्य प्रदेश के लोग इसे अपने लिए एक मुसीबत बता रहे हैं।

आइए जानते हैं सरदार सरोवर बांध की 10 बड़ी बातें

सरदार सरोवर बांध की नीव भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाला नेहरू ने 5 अप्रैल, 1961 में रखी थी

यह नर्मदा नदी पर बना 800 मीटर ऊंचा बांध है

सरदार सरोवर बांध दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा बांध है

यूएस का ग्रांड कोली डेम दुनिया का सबसे बड़ा बांध है

बांध के 30 दरवाजे हैं। हर दरवाजे का वजन 450 टन है

हर दरवाजे को बंद करने में एक घंटे का समय लगता है

ये बांध अब तक 16,000 करोड़ की कमाई कर चुका है

जो इसके स्ट्रक्चर पर हुए खर्च से तकरीबन दोगुना है

सरदार सरोवर बांध की 4.73 मिलियन क्यूबिक पानी स्टोर करने की क्षमता है

Sardar sarovar

17 जून को हुए थे बांध के 30 दरवाजे बंद

सरदार सरोवर बांध को लेकर 1985 में जबरदस्त विरोध हुआ था। सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर की अगुवाई में डैम का निर्माण रोकने की कोशिश हुई थी। 7. बांध की ऊंचाई 138 मीटर है। ये देश में बना सबसे ऊंचा बांध है। नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण ने 17 जून को बांध के 30 दरवाजे बंद किये थे। इसके बाद ये अभी तक बंद थे।

गुजरात में जश्न, एमपी में 'शोक'

सरदार सरोवर बांध का का उद्देश्य गुजरात के सूखाग्रस्त इलाकों में पानी पहुंचाना और मध्य प्रदेश के लिए बिजली पैदा करना है। गुजरात में बांध के उद्घाटन को लेकर खुशी है तो वहीं मध्य प्रदेश मके कई इलाकों में शोक का माहौल है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में लोग सरदार सरोवर बांध का विरोध कर रहे हैं। लोगों ने सिर मुंडवाते हुए प्रतीकात्मक शव रखकर सरकार का विरोध किया है। सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर के साथ सैकड़ों लोग पानी में बैठकर विरोध कर रहे हैं।

इनका कहना है कि सरदार सरोवर के 30 गेट खुलते ही, मध्य प्रदेश के अलीराजपुर, बड़वानी, धार, खारगोन जिलों के 192 गांवों, धर्मपुरी, महाराष्ट्र के 33 और गुजरात के 19 गांव इतिहास का हिस्सा बन जाएंगे. देश के शहरी इलाकों को रोशन करने, पानी भरने हज़ारों लोगों के घर में हमेशा के लिये अंधेरा छा जाएगा। विरोध कर रहे लोगों का कहना है कि पीएम देश के लोगों के साथ ऐसा कैसे कर सकते हैं।

देखिए वीडियो




कमेंट करें