नेशनल

हरियाणा में दिखा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का असर, पहली बार 950 हुआ लिंगानुुपात

icon कुलदीप सिंह | 0
205
| अप्रैल 8 , 2017 , 15:35 IST | चंडीगढ़

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि इतिहास में पहली बार राज्य में लिंगानुपात ने 950 का आकंड़ा छुआ है। हरियाणा अपने विषम लिंगानुपात के लिए कुख्यात है।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि इस साल मार्च तक जन्म के समय लिंग अनुपात 1000 लड़कों पर 950 लड़कियों का रहा। खट्टर ने बताया कि ऐसा राज्य के इतिहास में पहली बार हुआ है।

GTS-2

जिलावार आकंड़ों के अनुसार पर मार्च तक लिंगानुपात कैथल, रोहतक, झज्जर, गुरूग्राम, भिवानी, जींद, फतेहाबाद, पंचकुला, रेवाड़ी, अंबाला, मेवात, सोनीपत और फरीदाबाद में क्रमश: 864, 863, 893, 893, 893, 896, 898, 912, 913, 921, 926, 939 और 947 है।

4-283

राज्य सरकार द्वारा पेश आंकड़ों के अनुसार करनाल, हिसार, यमुनानगर, सिरसा, कुरूक्षेत्र, पानीपत, पलवल और नारनौल में लिंगानुपात क्रमश: 953, 972, 974, 976, 980, 993, 1217 और 1279 रहा।

Beti-Bachao-Beti-Padhao

खट्टर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ कार्यक्रम की शुरूआत के बाद हरियाणा में लिंगानुपात को बेहतर करने को एक चुनौती के तौर पर लिया था।

2012-07-02-pix_242


author
कुलदीप सिंह

Editorial Head- www.Khabarnwi.com Executive Editor - News World India. Follow me on twitter - @JournoKuldeep

कमेंट करें