नेशनल

शहीद गरुड़ कमांडो ज्योति प्रकाश निराला को अशोक चक्र से किया गया सम्मानित

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
209
| जनवरी 26 , 2018 , 11:04 IST

जम्मू कश्मीर में एक अभियान के दौरान दो आतंकवादियों को मारने वाले भारतीय वायु सेना के गरुड़ कमांडो ज्योति प्रकाश निराला को सर्वोच्च वीरता पुरस्कार अशोक चक्र से सम्मानित किया गया। बता दें इस अभियान के दौरान गोली लगने के कारण ज्योति प्रकाश निराला शहीद हो गये थे। 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 69वें गणतंत्र दिवस समारोह की पूर्व संध्या पर सैन्यकर्मियों समेत  अन्य के लिए 390 वीरता और रक्षा सम्मानों को मंजूरी दे दी है। अशोक चक्र युद्ध के मैदान से इतर, शांतिकाल में अद्भुत प्रदर्शन दिखाने के लिए दिया जाता है। अशोक चक्र देश का सर्वोच्च सैन्य सम्मान है। 

जानकारी के लिए बता दें एक अशोक चक्र के अलावा राष्ट्रपति ने पुरस्कारों की जिस सूची को मंजूरी दी है उसमें एक कीर्ति चक्र, 14 शौर्य चक्र, 28 परम विशिष्ट सेवा पदक, चार उत्तम युद्ध सेवा पदक, दो बार टू अति विशिष्ट सेवा पदक, 49 अति विशिष्ट सेवा पदक, 10 युद्ध सेवा पदक, दो बार टू सेना पदक (वीरता), 86 सेना पदक शामिल है।

राष्ट्रपति कोविंद ने नौसेना पदक, तीन वायुसेना पदक, दो बार टू सेना पदक , 38 सेना पदक , 13 नौसेना पदक, 14 वायुसेना पदक, एक बार टू विशिष्ट सेवा पदक और 121 विशिष्ट सेवा पदक को भी मंजूरी दी है। बता दें कारपोरल निराला उस गरुड़ विशेष बल इकाई का हिस्सा थे। जिसकी एक टुकड़ी जम्मू-कश्मीर में अभियान 'रक्षक' के तहत राष्ट्रीय राइफल्स बटालियन के साथ थी।

बता दें बांदीपुरा जिले के चंदेरगर गांव में खुफिया सूचना के आधार पर 18 नवंबर 2017 को यह अभियान चलाया गया था। उस अभियान में छह आतंकियों को मार गिराया गया था लेकिन निराला भी इसमें शहीद हो गए थे। बता दें जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फेंटरी के मेजर विजयंत बिष्ट को कीर्ति चक्र दिया जाएगा।

शौर्य चक्र राजपूत रेजिमेंट के कैप्टन रोहित शुक्ला, विशेष बलों के कैप्टन अभिनव शुक्ला और कैप्टन प्रदीप शौरी आर्य, ग्रेनडियर रेजिमेंट के हवलदार मुबारक अली, गोरखा राइफल्स के हलवदार रबींद्र थापा, विशेष बलों के लांस नायक नरेंद्र सिंह, जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फेंटरी के नायक बदर हुसैन और विशेष बलों के पैराट्रूपर मांचू को दिया जाएगा।

इतना ही नहीं गणतंत्र दिवस समारोह में सीबीआई के 27 अधिकारियों को उल्लेखनीय सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक से सम्मानित किया जाएगा। सम्मानित किए जाने वाले सभी अधिकारी देश के अलग-अलग हिस्सों में तैनात हैं।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर हैं

कमेंट करें