लाइफस्टाइल

शनि के प्रकोप से परेशान हैं इन 5 राशियों के जातक, शनि जयंती पर करें विशेष उपाय

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
487
| मई 25 , 2017 , 14:07 IST | नई दिल्ली

ज्येष्ठ मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या को सूर्य पुत्र शनि देव के जन्मोत्सव को शनि जयंती के रूप में मनाया जाता है। शास्त्रों के अनुसार इस दिन शनिदेव का जन्म हुआ था। शनिदेव को न्यायप्रिय देवता के रूप में जाना जाता हैं और वे गलत कार्य करने वालों को दंडित करते हैं। शनि के प्रसन्न रहने पर व्यक्ति को अपनी मुसीबतों से मुक्ति मिलती है। शनि देव को प्रसन्न करने में दान का भी विशेष महत्व है। यदि शनि आप से रुष्ट हैं तो आपको मानसिक शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

03_06_2016-shanidev7

अमावस्या गुरुवार 25 मई को सुबह 05 बजकर 07 मिनट से शुरू होगी जो 26 मई शुक्रवार को रात 01 बजकर 14 मिनट तक रहेगी। वहीं ज्योतिष के अनुसार अगर आपकी कुंडली में शनि भारी है या बुरा प्रभाव दे रहा है तो आप इस दिन कुछ उपाय कर शनिदेव को प्रसन्न कर सकते हैं।

जानिए किस राशियों पर है शनि का प्रभाव और उसके उपाय:


वृषभ- (ढय्या) शुक्र ग्रह के प्रतिनिधित्व वाले वृषभ राशि के लोग कुछ ज्यादा ही भोग विलासी होते हैं। धन संबंधी किसी भी परेशानी के चलते इन्हें शनि की आराधना करनी चाहिए, निश्चित रूप से यह लाभदायक होगा।

1481106825-7924

कन्या- (ढय्या) मिथुन राशि की ही तरह कन्या राशि का स्वामी भी बुध ग्रह है। आपके लिए गणेश आराधना फायदेमंद है। ॐ गं गणपते का जाप अवश्य करें।

1481366771-9245

वृश्चिक- (साढ़ेसाती) मंगल ग्रह के प्रतिनिधित्व वाले वृश्चिक राशि के लोगों को हनुमत आराधना करनी चाहिए। यह उनकी हर पीड़ा, हर दुख को दूर करेगी। ॐ हनुमते नम: का जाप आपकी शारीरिक और मानसिक पीड़ा को समाप्त करेगा।

1481442113-8577

धनु- (साढ़ेसाती) धनु राशि का संबंध बृहस्पति ग्रह से है, इनके लिए भगवान विष्णु की पूजा शुभ होती है। ॐ श्री विष्णवे नमः का जाप आपके जीवन की परेशानियों को हल करेगा।

1481446118-2271

मकर- (साढ़ेसाती) मकर राशि का स्वामी शनि ग्रह है, इसलिए आपको शनिदेव या हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए। ॐ शम् शनिश्चराये नम: का जाप इनके लिए फायदेमंद है।


1481447402-065