बिज़नेस

अब नहीं होगा फ्लिपकार्ट- स्नैपडील का मर्जर, अमेजॉन करेगा ऑर्डर डिलीवर

कीर्ति सक्सेना, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
151
| जुलाई 31 , 2017 , 16:49 IST | नई दिल्ली

स्‍नैपडील ने फ्लिपकार्ट के साथ विलय के लिए चल रही बातचीत को आज बिना किसी अंजाम तक पहुंचाए ही खत्‍म कर दिया। दोनों के कंपनियों के बीच छह महीने से चल रही वियल सौदे की बातचीत आज बिना किसी परिणाम के ही खत्‍म हो गई। कंपनी ने कहा कि वह एक स्‍वतंत्र रास्‍ता अपनाएगी। स्‍नैपडील के फाउंडर्स अपने से बड़े प्रतिस्‍पर्धी फ्लिपकार्ट द्वारा अधिग्रहण के विरोध में हैं।

स्‍नैपडील खुद चलाना चाहती है बि‍जनेस

सूत्रों के मुताबि‍क, स्‍नैपडील एक स्‍वतंत्र कंपनी के तौर पर आगे बढ़ने की योजना बना रही है। इसके लि‍ए कंपनी अपने 1,400 से ज्‍यादा कर्मचारि‍यों को कम करने और अपने बि‍जनेस को छोटा करने की प्‍लानिंग कर रही है।

फ्लि‍पकार्ट ने दि‍या स्‍नैपडील को ऑफर

बीते हफ्ते फ्लि‍पकार्ट ने स्‍नैपडील को 95 करोड़ डॉलर (करीब 6,080 करोड़ रुपए) का ऑफर दि‍या था। फ्लि‍पकार्ट की ओर से तत्‍काल 65 करोड़ से 70 करोड़ डॉलर स्‍टॉक में भुगतान कि‍ए जाएंगे और बाकी कुछ दि‍न बाद दि‍ए जाएंगे। यह भी कहा जा रहा है कि‍ फ्लि‍पकार्ट के ऑफर के तहत स्‍नैपडील का मार्केटप्‍लेस बि‍जनेस और यूनि‍कॉमर्स शामि‍ल है।

इसके अलावा इ कॉमर्स साइट अमेजॉन भी एक नया ऑफर लेकर आई है

अमेजॉन का ध्यान इस वक्त अपनी डिलीवरी को और बेहतर बनाने पर है फिर चाहे वह ऑर्डर उसकी वेबसाइट पर आया हो या फिर कहीं और से। अमेरिका की दिग्गज कंपनी अमेजॉन इस वक्त भारत में अपने रजिस्टर्ड सेलर्स के लिए लॉजिस्टिक बिजनेस का विस्तार कर रही है, फिर वो ऑर्डर भले ही ऑफलाइन डिस्ट्रीब्यूशन के लिए उसकी प्रतिद्वंदी कंपनी फ्लिपकार्ट और स्नैपडील पर ही क्यों न दिया गया हो।

इकोनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक अमेजन फूड डिलीवरी सर्विस में भी उतरने की योजना बना रहा है रनाऔर वो स्विगी से प्रतिस्पर्धा क चाहता है, जिसका वह अधिग्रहण करना चाहता था। वहीं वह कुछ अन्य फूड टेक स्टार्टअप के साथ बातचीत कर रहा है, यह वार्ता अपने शुरुआती चरण में है। अमेजॉन ने 300 सेलर्स के साथ लॉजिस्टिक सर्विस को पायलट प्रोजक्ट के तौर पर शुरू किया है। ये 300 सेलर्स वही होंगे जो कि इसके मार्केट प्लेस में रजिस्टर्ड होंगे। इसका खुलासा मामले की जानकारी रखने वाले तीन कार्यकारी अधिकारियों ने दी है। कंपनी की खुद की लॉजिस्टिक सर्विस अमेजॉन ट्रांसपोर्ट सर्विस (एटीएस) की ओर से संचालित की जाती है।

अमेजॉन ने भारत में लॉन्च किया पेमेंट वॉलेट

अमेजॉन ने अपना मोबाइल वॉलेट भारत में लॉन्च कर दिया है। शुरुआती दिनों में अमेजॉन वॉलेट यूजर्स को 10 फीसद कैशबैक का ऑफर दे रही है। यह ऑफर लौटाई गई चीजों पर भी लागू होगा। ई-कॉमर्स दिग्गज कंपनी अमेजन भारत में लोकल उपभोक्ताओं से ज्यादा लाभ उठा रहा है। रिफंड अमाउंट के अलावा 10 फीसद अतिरिक्त अमेजन पे बैलेंस कैशबैक दिया जाएगा। यह ऑफर एक समय में एक ही ग्राहक के लिए वैध होगा।


कमेंट करें