इंटरनेशनल

कोरियाई प्रायद्वीप में बढ़ रहा है तनाव, ट्रंप-शी की बैठक के पहले दक्षिण कोरिया ने किया मिसाइल टेस्ट

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
175
| अप्रैल 6 , 2017 , 17:32 IST | उत्तर कोरिया

दक्षिण कोरिया ने देश में विकसित 800 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली एक बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण किया है जो उत्तर कोरिया के किसी भी हिस्से को अपना निशाना बना सकती है।

38299486_303

योनहाप समाचार एजेंसी ने आज खबर दी कि दक्षिण कोरिया के इस परीक्षण से एक दिन पहले उत्तर कोरिया ने जापान सागर में एक बैलिस्टिक मिसाइल दागी थी।

170212072059-north-korea-missile-test-japan-newday-00000000-full-169

उत्तर कोरिया ने यह मिसाइल चीन-अमेरिका शिखर सम्मेलन से पहले दागी थी। इस शिखर सम्मेलन में प्योंगयांग का बढ़ता परमाणु हथियार कार्यक्रम एजेंडे में शीर्ष पर रहने की संभावना है। दक्षिण कोरिया को अमेरिका ने सुरक्षा प्रदान की है और देश में हजारों अमेरिकी सैनिक मौजूद हैं।

दक्षिण कोरिया ने वर्ष 2012 में उत्तर कोरिया के परमाणु खतरों से अपनी रक्षा के लिए अपनी बैलिस्टिक मिसाइल प्रणाली की मारक क्षमता तीन गुना अधिक करने के लिए अमेरिका के साथ एक समझौता किया था और उस समय से वह अधिक दूरी की मारक क्षमता वाली मिसाइलों को विकसित कर रहा है। एक उच्च रैंक के सरकारी अधिकारी का हवाला देते हुये योनहाप ने बताया कि 800 किलोमीटर (500 मील) की मारक क्षमता वाली दक्षिण कोरिया की मिसाइल प्योंगयांग को रोकने में अहम हो सकती है।

W1-t2-nkmissiles-a-20140327-e1395803498936

खबरों के मुताबिक , ‘‘मिसाइल का परीक्षण सफल रहा।’’ रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने इस पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

योनहाप ने बताया कि दक्षिण कोरिया नई मिसाइल की विश्वसनीयता की परख के लिए और अधिक परीक्षण करने के बाद इसे इस वर्ष तैनात करने की योजना बना रहा है। एजेंसी ने बताया कि अगर यह मिसाइल देश के दक्षिणी क्षेत्र से भी दागी जाती है तो भी यह पूरे उत्तर कोरिया को अपने घेरे में ले सकती है।


कमेंट करें