नेशनल

केंद्र ने राज्यों से की VAT घटाने की अपील, सस्ता होगा पेट्रोल डीजल!

अर्चित गुप्ता | 0
115
| अक्टूबर 5 , 2017 , 18:54 IST | नई दिल्ली

मंगलवार को पेट्रोल और डीजल के दामों में 2 रूपये की कटौती के बाद जनता को थोड़ी राहत मिली है। त्योहारी मौसम में जनता को एक और खुशखबरी मिल सकती है। बीजेपी शासित राज्यों के सभी मुख्यमंत्री अपने-अपने राज्यों में पेट्रोल और डीजल पर वैट कम करके जनता को बड़ी राहत दे सकते है। 

दरअसल केंद्र सरकार की तरफ से, ईंधन के उत्पाद शुल्क में की गयी 2 रूपये प्रति लीटर की कटौती के बाद अब, केंद्र की इच्छा है कि राज्य की सरकारें भी पेट्रोल और डीजल पर लगने वाले वैट में कम से कम 5% कटौती करें, ताकि आम जनता पर पड़ रही मंहगाई की मार को थोड़ा कम किया जा सके ।

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने राज्य सरकारों से ईंधन पर लगने वाले वैट को कम करने की अपील की है। अरुण जेटली ने कहा, ''हमने कस्टमर्स को ध्यान में रखते हुए पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी कम कर दी। अब ये राज्यों के ऊपर है कि वे वैट घटाते हैं या नहीं।''

बता दें कि अगर राज्य 5% वैट घटाते हैं तो दिल्ली में पेट्रोल 2.70 रुपए सस्ता हो जाएगा। 28 रुपए लीटर के पेट्रोल पर आम आदमी 37 रुपए तक टैक्स चुकाता है।  इस अपील के बाद सबसे पहले गुजरात ने कदम उठाया है और राज्य की रुपानी सरकार ने इस ओर इशारा करते हुए संकेत दिया है कि बहुत जल्द ईंधन के दामों से वैट को कम कर दिया जायेगा।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी वेट को कम करने के संकेत दिए है। राजधानी भोपाल में एक कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं से बातचीत में मुख्यमंत्री चौहान ने कहा है कि केंद्र के उत्पाद शुल्क घटाने के बाद राज्य सरकार वैट कम करने पर गंभीरता से विचार कर रही है और दिवाली से पहले प्रदेश के लोगों को राहत दी जा सकती है।

वैट के कम होने से ईंधन के दामों में भरी कमी आएगी और जनता पर पड़ रही अतिरिक्त मार को कम किया जायेगा। अब ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि गुजरात के बाद बीजेपी शासित अन्य राज्य भी वैट को कम कर सकते हैं। 

पेट्रोलियम मंत्री प्रधान के मुताबिक अरुण जेटली जल्दी ही सभी राज्य के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिख कर ईंधन के दामों से वैट कम करने की गुजारिश करेगें।


कमेंट करें