नेशनल

SC का बड़ा फैसला, नाबालिग पत्नी के साथ शारीरिक संबंध माना जाएगा रेप

ललिता सेन, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
76
| अक्टूबर 11 , 2017 , 11:02 IST | नई दिल्ली

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को नाबालिग पत्नी से जबरन शारीरिक संबंध पर बड़ा फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि नाबालिग पत्नी के साथ जबरन शारीरिक संबंध रेप माना जाएगा।

हालांकि केंद्र सरकार इसके पक्ष में नहीं थी। पति-पत्नी के बीच यौन संबंध के लिए सहमति की उम्र को बढ़ाए जाने की मांग वाली याचिका के जवाब में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि बाल विवाह सामाजिक सच्चाई है और इस पर कानून बनाना संसद का काम है। कोर्ट इसमें दखल नहीं दे सकता।

कानून के मुताबिक, लड़कियों की शादी कम से कम 18 साल की उम्र होने पर ही करनी चाहिए। वहीं, लड़कों की शादी का प्रावधान 21 साल की न्यूनतम उम्र का है। हालांकि भारतीय कानून ऐसे बाल विवाहों को भी वैध मानता है, जिनमें पति-पत्नी में संबंध बन गया हो।

बता दें कि, सहमति से आपसी शारीरिक संबंधों की कानूनी तौर पर वैध उम्र 18 साल है और अगर लड़की की उम्र इससे कम हो तो ऐसे संबंधों को बलात्कार माना जाता है। हालांकि, पहले शादी हो जाने पर 15 साल से कम उम्र की पत्नी के साथ सेक्स को अपराध नहीं माना गया था।


कमेंट करें

अभी अभी