इंटरनेशनल

पाकिस्तान में राजनीतिक संकट,पनामा केस में दोषी नवाज शरीफ ने दिया इस्तीफा

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
359
| जुलाई 28 , 2017 , 14:21 IST | इस्लामाबाद

पनामा पेपर लीक मामले में सुप्रीम कोर्ट ने आज (शुक्रवार) पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को दोषी करार दिया है। कोर्ट ने उन्‍हें अयोग्‍य करार दिया है। 

दोषी ठहराए जाने के बाद नवाज शरीफ ने प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। 

संभावना यह भी है शरीफ के पद से हटने के बाद उनके भाई शाहबाज शरीफ उनकी जगह ले सकते हैं। हालांकि उनके खिलाफ भी इमरान खान की पार्टी ने एक याचिका दायर की है जिसमें उन्‍हें अयोग्‍य ठहराने की मांग की गई है।

पहले ही इस बात की आशंका जताई जा रही थी कि कोर्ट शरीफ को अयोग्य ठहराने का फैसला सुनाएगा। सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्‍यीय बेंच ने एक मत से यह फैसला सुनाया है। इस फैसले के बाद पाकिस्‍तान का राजनीतिक भविष्‍य एक बार फिर दांव पर है। पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने एनएबी को आदेश दिया है कि वे दो हफ्तों के अंदर नवाज शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ केस दायर करें। सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ को पद से तुरंत इस्तीफा देने का आदेश दिया था।

इस मामले की जांच के लिए बनाई गई जेआईटी ने अपनी रिपोर्ट में शरीफ को प्रधानमंत्री पद के लिए अयोग्य ठहराने की सिफारिश की थी। शरीफ के परिवार की लंदन में कुछ संपत्तियों का खुलासा पिछले साल पनामा पेपर्स लीक मामले से हुआ। इन संपत्तियों के पीछे विदेश में बनाई गई कंपनियों का धन लगा हुआ है और इन कंपनियों का स्वामित्व शरीफ की संतानों के पास है। इन संपत्तियों में लंदन स्थित चार महंगे फ्लैट शामिल हैं।

बता दें कि शरीफ के परिवार के विदेश में संपत्ति अर्जित करने के आरोपों की जांच के लिए संयुक्त जांच दल का गठन किया गया था और जेआईटी ने 10 जुलाई 2017 को अपनी रिपोर्ट अदालत को सौंप दी थी। रिपोर्ट में कहा गया था कि शरीफ और उनके बच्चों का रहन सहन उनके आय के ज्ञात स्रोत के मुताबिक नहीं है। रिपोर्ट में उनके खिलाफ भ्रष्टाचार का नया मामला दर्ज करने का सुझाव दिया गया था।


कमेंट करें