राजनीति

लालू के बड़े बेटे ने कहा- CBI से लेकर भूत-पिशाच तक मेरी शादी में होंगे शामिल

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
188
| अक्टूबर 2 , 2017 , 19:14 IST | पटना

पटना में सोमवार को एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे राजद सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने सीबीआई छापों पर चुटकी ली। जब उनसे शादी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मेरी शादी में सीबीआई, भूत-पिशाच सब आएंगे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की दहेज के खिलाफ चल रही मुहिम पर भी तेज प्रताप ने कहा कि अगर बेटी का पिता दहेज देना चाहेगा तो कोई कैसे रोक सकता है। दिलचस्प है कि गांधी जयंती के मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों को शपथ दिलाई कि जिस शादी में दहेज लिया और दिया जायेगा उस शादी में नहीं जाना है।

हालांकि लालू के बड़े बेटे का अभी शादी करने का कोई इरादा नहीं है। तेजप्रताप यादव ने पहले कहा था कि इस साल नवंबर में वो शादी करेंगे, लेकिन सरकार में नहीं रहने के कारण शायद उन्होंने इरादा बदल दिया है।

तेजप्रताप यादव ने कहा कि देखिये अभी माहौल कुछ और है, आप लोगों को भी पता है कि आपलोग सिर्फ चुटकी लेना जानते हैं। देख सकते हैं कि अभी किस तरह से ईडी और सीबीआई के माध्यम से दबाया जा रहा है, क्योंकि इसके केंद्र में सृजन घोटाला है।

उन्होंने कहा कि बिहार में जो इतना बड़ा अरबों खरबों का सृजन घोटाला हुआ है। इसका खुलासा आरजेडी ने भागलपुर में किया, लेकिन सरकार की शह पर मीडिया भी इसको दबाने का काम कर रही है। लेकिन मामला दबने वाला नहीं है।

तेजप्रताप यादव पटना में एक इवेन्ट मैनेजमेंट ग्रुप के पटना स्थित दफ्तर का उद्धाटन करने आये थे। बिहार इवेन्ट ग्रुप का उद्घाटन पहले बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को करना था, लेकिन राबड़ी देवी कार्यक्रम में नहीं आईं। बिहार इवेन्ट ग्रुप राज्य के बड़े-बड़े इवेंट का आयोजन करने के साथ कंपनी पॉलिटिकल प्लानर का भी काम करेगी और नेताओं के लिए कैंपेन भी करेगी।

कम्पनी को आरजेडी की राज्यसभा सांसद मीसा भारती के कैम्पेन का काम मिल गया है। कम्पनी की डायरेक्टर शिखा कुशवाहा ने बताया कि छठ के बाद मीसा भारती के चुनाव क्षेत्र पाटलिपुत्र में कैम्पेन की शुरूआत होगी, जिसमें 50 से ज्यादा निफ्ट और आईआईटीयन लड़के लड़कियां हिस्सा लेंगे।

इस अवसर पर तेजप्रताप यादव ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि उनका सब अभियान फेल कर जाता है। दहेज प्रथा बंद करने की बात करते हैं, शराबबंदी के दौरान अभी भी सब जगह शराब मिल रहा है।


कमेंट करें