ख़ास रिपोर्ट

पहली बार नहीं हुआ है अमरनाथ यात्रियों पर हमला, 17 साल पहले गई थी 30 श्रद्धालुओं की जान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
187
| जुलाई 11 , 2017 , 08:53 IST | नई दिल्ली

जम्मू एवं कश्मीर के अनंतनाग जिले में सोमवार को अमरनाथ यात्रियों की एक बस पुलिस दल को निशाना बनाकर किए गए आतंकवादी हमले की चपेट में आ गई, जिसमें 7 श्रद्धालुओं की मौत हो गई। हमले में पुलिसकर्मियों सहित 14 लोग घायल हुए हैं।

Amarnath

जम्मू एवं कश्मीर पुलिस तथा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने बताया कि दर्शन कर लौट रहे श्रद्धालुओं को लेकर बालटाल से मीर बाजार को जा रही बस पर सोमवार की देर शाम 8.20 बजे बटेंगो में यह हमला हुआ। आतंकवादियों ने इलाके में दो और जगहों पर सुरक्षा बलों को निशाना बनाते हुए हमला किया।

CRPF_Convoy_Attack-PTI

ऐसा पहली बार नहीं है जब अमरनाथ यात्रियों पर हमला हुआ है। इससे पहले साल 2000 में भी आतंकियों ने श्रद्धालुओं को निशाना बनाकर बड़ा आतंकी हमला किया था। जिसमें कई श्रद्धालु की मौत हुई थी।

Amarnath-yatra-attack-pti_650x400_51499709862

पढ़िए कब-कब हुआ है हमला-

1- साल 2000 में पहलगाम बेस कैंप पर आतंकियों ने किया हमला। 30 श्रद्धालु मारे गए और 60 से ज्यादा घायल हुए।

2- साल 2001 में एक कैंप पर आतंकियों ने दो हथगोले फेंके, बारह लोग मारे गए और 15 लोग घायल हुए।

3- जुलाई 2002 में आतंकियों ने जम्मू के पास यात्रियों पर हथगोला फेंका और फिर गोलियां चलाईं। दो यात्री मारे गए और दो घायल हुए।

4- 06 अगस्त 2002 को जम्मू कश्मीर में अमरनाथ यात्रियों के एक कैंप पर आतंकियों ने हमला किया। दस से ज्यादा लोग मारे गए और तीस अन्य लोग घायल हुए।

5- 2006 में आतंकियों ने एक बार फिर अमरनाथ यात्रियों को बनाया निशाना, इस हमले में एक श्रद्धालु की मौत हो गई थी।


कमेंट करें