नेशनल

कश्मीर: CRPF कैंप पर आतंकी हमला, 1 जवान शहीद , 2 घायल

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
683
| दिसंबर 31 , 2017 , 14:14 IST

जम्मू कश्मीर के लैथापोरा में सीआरपीएफ के ट्रेनिंग कैंप पर आतंकी हमला हुआ है। सीआरपीएफ का 1 जवान शहीद हो गए जबकि 2 जवान घायल हैं। यह घटना देर रात दो बजकर दस मिनट की है।

खबरों के मुताबिक 3 आतंकी साउथ कश्मीर के अवंतीपोरा, पुलवामा स्थ‍ित कैंप में घुसे हैं। आतंकियों ने पहले ग्रेनेड से हमला किया। उसके बाद लगातार फायरिंग शुरू कर दी। मीडिया को वट्सऐप मेसेज भेजकर जैश ए मोहम्मद ने हमले की जिम्मेदारी ली। आतंकी संगठन का कहना है कि यह फिदायिन हमला उनके आतंकी कमांडर नूर त्राली की मौत का बदला लेने के लिए किया गया है। बता दें कि मुठभेड़ अभी जारी है।

सीआरपीएफ ने बयान जारी कर कहा कि फिदायिन हमलावरों ने लैथापोरा कैंप पर हमला किया। शुरुआती जानकारी के अनुसार 3 जवान घायल हुए हैं। हमला जम्मू कश्मीर पुलिस कमांडो ट्रेनिंग एरिया की तरफ से हुआ। सीआरपीएफ ने यह भी बताया कि इस बात की पूरी आशंका है कि दूसरे कैंपों में भी इस तरह के हमले हो सकते हैं। सीआरपीएफ और जम्मू कश्मीर पुलिस के आईजी अतिरिक्त सहायता लेकर कैंप पहुंच चुके हैं। सेना ने आतंकियों को चारों तरफ से घेर रखा है।

सीआरपीएफ के आईजी रविदीप साही ने बताया कि हमले में 3 जवान घायल हुए हैं। आपको बता दें कि इस तरह के हमले की चेतावनी वाली खुफि‍या सूचना पुलिस और सेना के सारे यूनिट को शेयर की गई थी। सीआरपीएफ और जम्मू कश्मीर पुलिस के सीनियर अध‍िकारी मौके पर पहुंच चुके हैं। जम्मू कश्मीर राज्यमार्ग बंद कर दिया गया है। इलाके में फोन और इंटरनेट सेवा बंद।

लैथापोरा कमांडो ट्रेनिंग सेंटर साउथ कश्मीर के पुलवामा ज़िले में मौजूद है। पुलवामा का यह प्रमुख कमांडो ट्रेनिंग कैम्प है। यहां पर जवानों को खासतौर से फिदायीन हमलों से निपटने की ट्रेनिंग दी जाती है, बाद में उन्हें एंटी फिदायीन निरोधी दस्ते में शामिल कर लिया जाता है। कैम्प में जवानों को फिदायीन हमलों से निपटने की कई तरह की ट्रेनिंग दी जाती है। इसमें बिल्डिंग में पनाह लेने या किसी कैम्प के अंदर घुसपैठ से जुड़े हमले से की ट्रेनिंग शामिल है। कैम्प में पचास-पचास जवानों के बैच में ट्रेनिंग दी जाती है। लेकिन इस बार आतंकवादियों ने इसी एंटी फिदायीन कमांडो वाले कैम्प को निशाना बनाया है।


कमेंट करें