इंटरनेशनल

थाईलैंड: अगले 24 घंटे गुफा में फंसे 13 लोगों पर आफत, भारी बारिश से गुफा में पानी भरने का ख़तरा

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1397
| जुलाई 5 , 2018 , 16:50 IST

थाईलैंड की थीम लुआंग गुफा में पिछले दो हफ्ते से फंसे जूनियर फुटबॉल टीम के 12 खिलाड़ियों और उनके कोच को ब्रिटिश गोताखोरों ने सोमवार को खोजा निकाला था लेकिन अब सबसे बड़ी चुनौती है उन्हें बाहर निकालना। खराब मौसम की बजह से बच्चों को निकालने में परेशानी आ रही है। मौसम विभाग के मुताबिक अभी वहां और ज्यादा बारिश होने की संभावना है, इससे पहले से पानी में डूबी गुफा में जलस्तर और बढ़ जाने का खतरा है, जिसके चलते बच्चों को सुरक्षित निकालने में सेना के लिए और परेशानी खड़ी हो सकती है।

 

 

सेना के मुताबिक इन किशोरों को सामग्री इस हिसाब से देने की कोशिश की जा रही है ताकि चार माह तक उन्हें इसकी कमी नहीं हो। थीम लुआंग गुफा बाढ़ के समय हमेशा पानी से भर जाती है और बाढ़ का पानी सितंबर या अक्टूबर तक रहता है। गुफा में भरे पानी को पंप के जरिए बाहर निकालने की कोशिशें भी की जा रही हैं, लेकिन इसमें अधिक सफलता नहीं मिल रही है। गुफा से एक दिन में सिर्फ एक इंच पानी ही कम हो पाया है।

Thailand_ child

बचावकार्य में लगी सेना का कहना है कि गुफा से बाहर निकलने के लिए इन किशोरों को तैराकी सीखनी होगी या फिर उन्हें बाढ़ के पानी के उतर जाने तक इंतजार करना होगा जिसमें महीनों भी लग सकते हैं। थाईलैंड की सेना का कहना है कि गुफा से बाहर आने के लिए इन बच्चों को गहरे पानी में सांस लेने के तरीके सिखाए जा रहे हैं, क्योंकि पूरी टीम को तैराकी नहीं आती है। इन्हें बाहर निकलने के लिए 3 किलोमीटर तक संकरा पानी भरा रास्ता तय करना होगा। सेना ने कहा कि बचाव तक जवान बच्चों के साथ रहेंगे। अधिकारियों का कहना है कि बचाव अभियान एक हफ्ते से लेकर कई महीनों तक चल सकता है।

वही गुफा में पिछले दो हफ्तों से फंसे 12 लड़को का एक वीडियो सामने आया है। वीडियो में लड़के अपने कोच के साथ दिखाई दे रहे हैं। जिसमें बच्चों ने पतले कंबल लपेटे हुए हैं। वह हंसते हुए अपना नाम बता रहे हैं और कह रहे हैं कि हम सभी स्वस्थ हैं। यही नहीं वीडियो में वह काफी हंसते हुए और मजाकर करते हुए भी दिखाई दे रहे हैं। एक मिनट का यह वीडियो मंगलवार का है। लेकिन बुधवार को थाईलैंड की नौसेना ने इसे फेसबुक पर पोस्ट किया है। वीडियो के सामने आने के बाद दुनिया भर में उनके सुरक्षित आने की दुआ कर रहे लोगों के लिए यह राहत की बात है। 

 


कमेंट करें