नेशनल

'चोटी कटवा' से बचने के लिए लोगों ने शुरू किया ये काम, क्या मुसीबत होगी कम?

अभिनव उपाध्याय, संवाददाता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
444
| अगस्त 4 , 2017 , 19:58 IST | नयी दिल्ली

देश की राजधानी समेत कई राज्यों में पिछले कई दिनों से महिलाओं की चोटी कटने का रहस्य और गहराता जा रहा है। अब लोग इसे अंधविश्वास से भी जोड़कर देखने लगे हैं जिसके चलते लोग अब इस कथित अदृश्य शक्ति से अपनी और अपने घर की सुरक्षा के लिए अलग-अलग तरीके अपना रहे हैं।

Maxresdefault

आपको बता दें कि गुरुवार से लेकर अबतक दिल्ली के बेगमपुर गांव में 4 महिलाओं की चोटी कट चुकी है। बाल कटने के भय से लोग अब अंधविश्वास और टोटकों का सहारा ले रहे हैं।

IMG-20170804-WA0070

लोग घरों के बाहर नीम के पत्ते और हल्दी मेहंदी के पंजे लगा रहे हैं। वे मान रहे हैं कि महिलाओं के बालों की चोटी काटने के पिछले किसी चुड़ैल या भूत प्रेत जैसी किसी अदृश्य शक्ति का हाथ है। शुक्रवार सुबह मंगोलपुरी के F ब्लॉक में लोगों ने सुना कि यहां रहने वाली एक युवती के बाल कट गए हैं। जिसके बाद इलाके में ये खबर जंगल में आग की तरह फैल गयी। जिसके बाद स्थानीय लोगों ने अपने घरों पर हल्दी, मेहंदी और नीम के पत्ते लगाने शुरू कर दिए।

IMG-20170804-WA0068

लोगो को लग रहा है कि इन उपायों से बुरी शक्तियां दूर रहेंगी और कोई भी अनहोनी घटना इनके साथ नही होगी। लोग ऐसे उपाय कर अपने आपको सुरक्षित मान रहे हैं लेकिन इन सब घटनाओं से साफ है कि लोग आज के इस आधुनिक युग में भी भूत प्रेत, जादू टोने जैसे अंधविश्वास में भी मान्यता रखते हैं। ये सिर्फ एक अफवाह है या कुछ और फिलहाल ये जांच का विषय है। लेकिन न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया ऐसी किसी भी अफवाह या अंधविश्वास का समर्थन नहीं करता है।


कमेंट करें