नेशनल

सैफी बुरहानी ट्रस्ट ने 11 करोड़ में खरीदी दाऊद इब्राहिम की ये तीनों संपत्तियां

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
123
| नवंबर 14 , 2017 , 17:56 IST | नई दिल्ली

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की मुंबई में मौजूद 3 संपत्तियों की नीलामी हो गई है। यह नीलामी चर्चगेट इलाके के इंडियन मर्चेंट चैंबर में हुई।दाऊद की संपत्तियों को सैफी बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्ट (एसबीयूटी) ने करीब 11 करोड़ रुपये में खरीद लिया है, जिसमें रौनक अफरोज होटल, शबमन गेस्ट हाउस और डांबरवाला इमारत शामिल है।

दाऊद का रौनक अफरोज होटल- 4.53 करोड़ रुपए में नीलाम हुआ है। वहीं डांबरवाला बिल्डिंग 3.53 करोड़ रुपए में और शबनम गेस्ट हाउस 3.52 करोड़ रुपए में नीलाम हुआ है। इन संप‍त्तियों में शामिल होटल के लिए पिछली बार पत्रकार एस बालाकृष्णन ने चार करोड़ 28 लाख रुपए की सबसे बड़ी बोली लगाई थी, लेकिन वह रकम चुका नहीं सके थे।

बुरहानी एपलिफ्टमेंट ट्रस्ट के प्रवक्ता ने बताया कि ये तीनों प्रॉपर्टी हमारे भिंडी बाजार पुनर्विकास परियोजना के एरिया में ही आ रहे थे। यह ट्रस्ट भिंडी बाजार का कायाकल्प का काम पिछले कुछ सालों से कर रहा है। चर्चा है कि इस इलाके में आने वाली दाऊद ये तीन प्रॉपर्टीज इनके पुनर्विकास प्रोजेक्ट में बाधा बन रहे थे। इसलिए ट्रस्ट ने इन्हें खरीदा है।

SBUT ट्रस्‍ट में जो लोग शामिल हैं उनमें चेयरमैन शहजाद डॉ.क्‍वीदजोहर भाईसाहेब इजुद्दीन के अलावा वाइस चेयरमैन शहजाद अब्‍बास भाईसाहेब फकरुद्दीन और शहजाद ताहा भाईसाहेब नजमुद्दीन हैं।

कामयाब नहीं हो सके चक्रपाणि अपने मकसद में-

यह भी बताया जा रहा था कि दाऊद की कार खरीदकर उसे आग के हवाले करने वाले ऑल इंडिया हिंदू महासभा के स्वामी चक्रपाणी इस नीलामी में हिस्‍सा लेने की तैयारी में हैं। उन्‍होंने एलान किया था कि वे दाऊद का होटल खरीदकर वहां शौचालय बनवाएंगे। हालांकि यह पता चला है कि वह अपने इस मकसद में कामयाब नहीं हो सके। आपको बता दें कि इससे पहले चक्रपाणी ने एक नीलामी में 32 हजार में दाऊद की कार खरीदी थी और बाद में उसमें आग लगा दी थी। इसको लेकर उनकी हत्‍या की साजिश भी रची गई थी।

मुंबई सीरियल ब्लास्ट का मास्टरमाइंड है दाऊद-

12 मार्च, 1993 को मुंबई में 13 जगह सीरियल ब्लास्ट हुए थे। इसमें करीब 257 लोगों की मौत हुई थी। 700 लोग गंभीर रूप से जख्मी हुए थे। इन धमाकों का मास्टरमांइड दाऊद इब्राहिम को माना जाता है। तभी से भारत के लिए वह वॉन्टेड है। दाऊद ने पाकिस्तान में पनाह ले रखी है। उसका कारोबार दुनिया के कई देशों में फैला हुआ है।


कमेंट करें