राजनीति

नागालैंड: टीआर ज़ेलिआंग बने नए मुख्यमंत्री, 22 जुलाई तक बहुमत साबित करना होगा

icon कुलदीप सिंह | 0
217
| जुलाई 19 , 2017 , 14:38 IST | कोहिमा

नागालैंड की राजनीति में तमाम उथल-पुथल के चलते अब नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री टीआर जेलियांग को मुख्‍यमंत्री बनाने का फैसला किया गया है। नागालैंड के लिए नए मुख्‍यमंत्री के तौर पर जेलियांग बुधवार को शपथ लेंगे और उन्हें 22 जुलाई से पहले बहुमत सिद्ध करना होगा। इससे पहले मुख्यमंत्री शुरहोजेली लिजित्सू और उनके समर्थक बुधवार को शक्ति परीक्षण के लिए सदन में नहीं पहुंचे, जिसके बाद विधानसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई।

बता दें कि मंगलवार को गुवाहाटी उच्च न्यायालय द्वारा विश्वासमत हासिल करने के राज्यपाल के निर्देश पर रोक लगाने वाली याचिका ठुकराए जाने के बाद नागालैंड के मुख्यमंत्री शरहोजेली लिजित्सू को बुधवार को विधानसभा के विशेष सत्र में शक्ति परीक्षण से गुजरना था। दरअसल राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री टीआर जेलियांग ने 60 सदस्यों वाली विधानसभा में 41 सदस्यों का समर्थन होने का दावा करते हुए नई सरकार के गठन का दावा किया था। शहरी स्थानीय निकाय चुनावों में महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत के आरक्षण को लेकर बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन के बाद पद छोड़ने वाले जेलियांग ने यह कहते हुए सरकार बनाने का दावा किया कि उनके पास सदन में बहुमत है।

DFFXcKvUwAAU6Ih

मंगलवार को गुवाहाटी हाईकोर्ट ने ट्रस्ट वोट पर गवर्नर के निर्देश पर स्टे लगाने के लिए दाखिल उनकी याचिका को खारिज कर दिया था। गुवाहाटी हाईकोर्ट के कोहिमा बेंच के जस्टिस एलएम जामिर ने लिजीत्सु की रिट याचिका को खारिज कर दिया था। इसमें 15 जुलाई तक विधानसभा में विश्वास मत हासिल करने के राज्यपाल के निर्देश पर स्टे लगाने का अनुरोध किया गया था।
याचिका को खारिज करते हुए कोर्ट ने कहा था, यह मामला राज्यपाल पर छोड़ा जाता है। वह इस मामले में निर्णय लेंगे। मुख्यमंत्री को 15 जुलाई तक का समय था और उन्होंने 14 जुलाई को ही याचिका दाखिल की थी।


author
कुलदीप सिंह

Editorial Head- www.Khabarnwi.com Executive Editor - News World India. Follow me on twitter - @JournoKuldeep

कमेंट करें