विज्ञान/टेक्नोलॉजी

अभद्र भाषा और ट्रोल्स से परेशान हैं तो ट्विटर सिखाएगा कैसे करें ट्वीट

अनुराग गुप्ता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
65
| जून 30 , 2017 , 15:29 IST | मुंबई

इस नए दौर में सोशल मीडिया में गालियों और ट्रोल्स से परेशान होकर ट्विटर ने एक ऐतिहासिक कदम उठाया है। बता दें कि विशेषज्ञों का मानना है कि देश की बड़ी इंटरनेट आबादी को ट्विटर का इस्तेमाल करना नहीं आता है या कहे कि वो चलाना नहीं जानते है। इन समस्याओं को ध्यान में रखते हुए ट्विटर इंडिया एक पब्लिक एजुकेशन प्रोग्राम की शुरुआत करने जा रहा है।

ट्विटर इंडिया ने इस प्रोग्राम को 'ट्वीसर्फिंग' नाम दिया है। बता दें कि यह प्रोग्राम गुरूवार को लॉन्च हुआ है, इसमें ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों वर्कशॉप्स होंगी। इस प्रोग्राम में ट्विटर यूजर्स को सेफ रहने के टिप्स के साथ गाइडलाइन्स भी बताई जाएगी।

ट्विटर इंडिया की हेड ऑफ पॉलिसी महिमा कौल ने बताया कि कंपनी ने इस प्रोग्राम को शुरू करने से पहले एक साल अध्ययन किया था। कौल ने कहा कि, हमनें महसूस किया कि भारत में ट्विटर यूजर्स के बीच नॉलेज गैप पहला मुद्दा है और यूजर्स को पता नहीं कि प्लैटफार्म में ट्वीट्स को ब्लॉक, रिपोर्ट या अवॉइड करने के ऑप्शंस हैं।

सोशल रिसर्च सेंटर (सीएसआर) की मदद से ट्विटर यूजर्स को शिक्षित करने के लिए वर्कशॉप्स और गाइडलाइन्स बनाए गए है। सीएसआर की रंजना कुमारी ने कहा कि बड़ी संख्या में लोग युवाओं को साइबर शिष्टाचार को समझे बिना ट्विटर का उपयोग करते हैं। इस वर्कशॉप्स के जरिए यूजर्स को समझाया जाएगा कि अभद्र ट्वीट की जगह पर कैसे आप सकारात्मक बहस में शामिल हो सकते हैं।


कमेंट करें