ख़ास रिपोर्ट

ब्रिटेन में रासायनिक हथियार के इस्तेमाल से हड़कंप, Novichok की चपेट में आए पति-पत्नी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1690
| जुलाई 5 , 2018 , 16:11 IST

इंग्लैंड के एक शहर में महिला और एक पुरुष 'नोविचोक' नाम के नर्व एजेंट से बेहोशी की हालत में पाए गए। यह वही नर्व एजेंट है, जिससे मार्च में रूस के पूर्व जासूस सर्गेइ स्क्रिपल और उनकी बेटी को मारने की कोशिश की गई थी। बीबीसी के मुताबिक, चार्ली रोली (45) और उनके पति डॉन स्ट्रगस (44) 30 जून को विल्टशायर के एम्सबरी में अपने घर में बेहोशी की हालत में पाए गए। इनकी हालत गंभीर बनी हुई है।


मेट्रोपोलिटन पुलिस का कहना है कि इस तरह के लक्षण अभी किसी और में नहीं मिले हैं। इस बात के भी साक्ष्य नहीं मिले हैं कि इस दंपति को जानबूझकर निशाना बनाया गया। सरकार ने गुरुवार को जांच के लिए आपात बैठक बुलाई है।


आतंकवाद रोधी पुलिस नेटवर्क विल्टशायर पुलिस के साथ मिलकर इस मामले की जांच कर रहा है।

सहायक आयुक्त नील बसु का कहना है कि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि क्या यह दंपति उसी बचे हुए नर्व एजेंट की चपेट में आया है, जिससे स्क्रिपल और उनकी बेटी यूलिया को निशाना बनाया गया था।

बीबीसी के मुताबिक, बसु ने कहा कि किसी भी तरह का दूषित सामान नहीं मिला है लेकिन अधिकारी इस मामले की पूरी जांच कर रहे हैं कि क्या इस दंपति को जहर दिया गया या नहीं।

उन्होंने कहा कि लोगों को किसी भी अनजान चीज को उठाने से बचने की जरूरत है।

गृह मंत्री साजिद जाविद ने कहा कि मार्च में स्क्रिपल और उनकी बेटी पर हुए हमले के बाद इस तरह की घटना हुई है।

क्या है नर्व एजेंट ?

नर्व एजेंट को संयुक्त राष्ट्र ने सामूहिक हत्या करने वाला रासायनिक हथियार बताया है। यह सबसे अधिक ज़हरीला रासायनिक हथियार है। यह एक तैलीय तरल पदार्थ है। यह रंगहीन और गंधहीन होता है। यह त्वचा के अंदर जाकर तंत्रिकाओं के ज़रिए संदेश भेजे जाने को रोक देता है। त्वचा पर पड़ने वाली इसकी एक बूंद जान ले सकती है। इसकी एक छोटी खुराक से आंखों में तेज़ दर्द, धुंधला दिखना, सुस्ती और उल्टी की समस्या आ सकती है। इसे स्प्रे कर या भाप जैसा बनाकर फैलाया जा सकता है। इसे ख़ाने, पीने के पानी या कृषि उत्पादों में मिला कर उन्हें ज़हरीला बनाया जा सकता है। यह सांस, त्वचा के संपर्क में आकर और आंखों के ज़रिए शरीर में पहुंच सकता है। भाप के संपर्क में आकर वीएक्स क़रीब आधे घंटे तक कपड़ों में रह सकता है। इस तरह यह और लोगों को भी संक्रमित कर सकता है। साल 1993 में हुई केमिकल विपंस कनवेंशन के ज़रिए वीएक्स के इस्तेमाल पर रोक लगा दी गई थी।

क्यों आया रूस का नाम ?

पूर्व रूसी जासूस सर्गेई स्क्रिपल और उनकी बेटी यूलिया को ज़हर देने के लिए रूस में निर्मित नर्व एजेंट का इस्तेमाल क्यों किया गया. रूस को इस बारे में बताना ही होगा। ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे ने सर्गेई को ज़हर देने के मामले में रूस के प्रति सख़्ती दिखाई। टेरीज़ा ने कहा, ''मंगलवार तक अगर 'विश्वसनीय प्रतिकिया' नहीं मिलती है तो ब्रिटेन इसको रूस द्वारा 'शक्ति के ग़ैर-क़ानूनी प्रयोग' के तौर पर मानेगा।

THERESA__

उन्होंने सांसदों से कहा है कि जिस तरह का नर्व एजेंट हमले में इस्तेमाल किया गया था, वो सैन्य-ग्रेड का और रूस द्वारा निर्मित था। प्रधानमंत्री ने कहा है कि सरकार इस निष्कर्ष पर पहुंची है कि सेलिस्बरी हमले के लिए रूस के ज़िम्मेदार होने की बहुत अधिक संभावना है। विदेश कार्यालय ने रूसी राजदूत से इस पर सफ़ाई मांगी है।

RUSIYA__1

किम जोंग पर भी लगा है नर्व एजेंट के इस्तेमाल का आरोप

नर्व एजेंट एक ऐसा रासायनिक हथियार है, जिसके संपर्क में आने भर से ही किसी की जान जा सकती है। उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के सौतेले भाई किम जोंग नम की कुआलालंपुर में हुई हत्या में इसी VX नर्व एजेंट के इस्तेमाल की बात सामने आई है।

KIM___


कमेंट करें