अभी-अभी

यूपी में बीजेपी नेता को जेल भेजने वाली 'लेडी सिंघम' श्रेष्ठा सिंह का ट्रांसफर ( वीडियो)

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
189
| जुलाई 2 , 2017 , 17:32 IST | लखनऊ

हाल ही में उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में ट्रैफिक नियम का उल्लंघन करने पर बीजेपी नेता का चालान काटने वाली महिला पुलिस अधिकारी का तबादला कर दिया गया है। इस लेडी सिंघम का नाम श्रेष्ठा सिंह है। बुलंदशहर के स्याना में सीओ के पद पर तैनात श्रेष्ठा सिंह का बुलंदशहर से बहराइच तबादला कर दिया गया है।

दरअसल, बीजेपी नेता की धमकी के बाद भी उनपर कानून का डंडा चलाने वाली महिला पुलिस ऑफिसर का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था। जिसके बाद लोग उन्हें 'लेडी सिंघम' के नाम से संबोधित करने लगे।

_c47ec11e-59c7-11e7-8fa7-9af4fbfb1c71

वायरल वीडियो में श्रेष्ठा सिंह बीजेपी नेता को यह भी बताती नज़र आई कि, कानून सबके लिए एक सामन है, कानून से ऊपर कोई नहीं है। नियम-कानून तोड़ने पर वह सबके खिलाफ एक समान एक्शन लेंगी।इसके बाद बीजेपी नेता के बदसलूकी करने पर महिला अफसर ने उन्हें हद में रहने तक की हिदायत दी। इसके बावजूद वह बाज नहीं आए।

क्या है पूरा मामला?

23 जून को बुलंदशहर जिले के स्याना कस्बे में बीजेपी की जिला पंचायत सदस्य के पति प्रमोद लोधी का ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन में पुलिस ने चालान काटा। चालान काटने पर प्रमोद आग बबूला हो गए और पुलिस से हाथापाई शुरू कर दी। इसके बाद पुलिस ने बाइक सीज कर प्रमोद को गिरफ्तार कर लिया। जब प्रमोद को कोर्ट में पेश करने के लिए ले जाया गया तो वहां बड़ी संख्या में बीजेपी नेता के समर्थक एकत्र हो गए और पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे।

कोर्ट में बीजेपी कार्यकर्ता सीओ श्रेष्ठा सिंह से भिड़ गए। श्रेष्ठा सिंह ने कहा कि अगर कोई नियमों का उल्लंघन करेगा, सरकारी कामकाज में बाधा डालेगा और बदसलूकी करेगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। सीओ ने ये भी कहा कि मुख्यमंत्री से लिखवा लाइए कि वाहनों की चेकिंग नहीं करनी है तो ऐसा नहीं किया जाएगा।

यहां देखें पूरा वीडियो


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर हैं

कमेंट करें